खुशखबरी : बर्थ खाली रहने पर मिल सकता है 50% डिस्काउंट, ऐसे होगा नया किराया

लाइव सिटीज डेस्क : जिस प्रकार हवाई जहाज में सीटें खाली रह जाने पर छूट दी जाती है, उसी प्रकार अब रेलवे में भी खाली सीटों पर किराए में छूट दी जाएगी. ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को जल्द ही ये खुशखबरी मिलने वाली है. भारतीय रेलवे सीटें खाली रहने पर यात्रियों को 50 फीसदी तक का डिस्काउंट ऑफर देगा. भारतीय रेलवे द्वारा तैयार किए जा रहे डायनेमिक प्राइसिंग मॉडल में इस तरह के प्रपोजल मिल रहे हैं.

गौरतलब है कि पिछले दिनों रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि अब रेलवे का किराया एयरलाइंस की तरह डायनेमिक प्राइसिंग मॉडल से तय होगा. इसके तहत किराया बढ़ेगा भी और घटेगा भी, यानी सीटें खाली रहने पर किराए में डिस्‍काउंट दिया जाएगा. इसके लिए एक हार्इ लेवल कमेटी का गठन किया गया है.



रेलवे की कमेटी के पास प्रपोजल आया है कि पैसेंजर एमेनिटीज, पंक्चुअल्टी और कैटरिंग सेवा के आधार पर ट्रेनों को तीन श्रेणी में बांटा जाएगा सुपर प्रीमियम, प्रीमियम तथा नॉन प्रीमियम ट्रेन. कस्टमर्स फीडबैक और सालाना पंक्चुअल्टी 90 फीसदी से ज्यादा होगी उसे सुपर प्रीमियम ट्रेन की श्रेणी में रखा जाएगा, जबकि प्रीमियम ट्रेनों की पंक्चुअल्टी मात्र 80 फीसदी होगी. तीसरे स्थान पर नॉन प्रीमियम ट्रेनों को रखा गया है जिनकी पंक्चुअल्टी सबसे कम होगा.

मसुदन स्टेशन अटैक : किऊल-जमालपुर रूट पर रेल ट्रैफिक बंद, ट्रेनें रुकी, यात्री परेशान

गर्मी की छुटिटयों, एग्जाम सीजन तथा त्योहारों को देखते हुए रेलवे ने टिकटों की दरें घटाने-बढ़ाने के लिए तीन सीजन निर्धारित किए हैं. पीक सीजन में सुपर प्रीमियम ट्रेनों का किराया ज्यादा बढ़ेगा. नॉन पीक सीजन में किराए में ज्यादा छूट दी जाएगी और स्‍लैक सीजन में बेस रेट पर थोड़ी कम छूट मिले. पीक सीजन के दौरान सुपर प्रीमियम ट्रेन में रेलवे के किराए में बढ़ोतरी होती रहेगी, जैसे पहली 10 प्रतिशत सीटों पर रेलवे टिकट का चार्ज बिल्कुल नॉर्मल रहेगा. लेकिन इसके बाद हर अगली 10 फीसदी सीटों के बुक होते ही किराए में 10 फीसदी की बढ़ोतरी होती रहेगी.