अब आधार कार्ड ले सकता है PAN कार्ड की जगह ! जानिए इसकी सच्चाई

लाइव सिटीज,सेन्ट्रल डेस्क: अब PAN कार्ड की जगह आपका आधार ले सकता है, ये पढ़कर आप सोंच में पड़ गए होंगे. लेकिन ये सच है, हालांकि ऐसा कुछ समय के लिए ही होगा. दरअसल इसका जिक्र बजट पेश करने के दौरान केन्द्रीय वित्त मंत्री  निर्मला सीतारमण ने  कहा  कि 12 अंकों की यूनिक पहचान संख्या ‘आधार’ टैक्स अदा करने के मामले में आपके पैन कार्ड की जगह ले सकता है. वहीं राजस्व सचिव अजय भूषण पांडे ने शनिवार को कहा कि बैंक अपने सिस्टम को इस तरह अपग्रेड कर लें, कि जहां कहीं भी पैन कार्ड का उपयोग अनिवार्य हो वहां ग्राहक आधार कार्ड का उपयोग कर काम चला सकता है.वर्तमान में बैंक से 50 हजार रुपये से अधिक की नकद निकासी या जमा के लिए ग्राहक के पास पैन कार्ड होना जरूरी है।

आपको बता दें कि केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने  बजट पेश करते हुए कहा था कि ग्राहक कई नियमों का आसानी से अनुपालन कर सकें, इसके लिए पैन कार्ड की जगह आधार कार्ड के उपयोग को भी स्वीकृति दी जाएगी. ऐसे में हर उस स्थान पर आधार कार्ड को विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकेगा, जहां पैन कार्ड का उपयोग अनिवार्य है. इस संबंध में अधिकारियों का कहना है कि जिन लोगों के पास पैन कार्ड नहीं है और वे अपना आईटी रिटर्न दाखिल करना चाहते हैं ऐसे लोग अपने आधार नंबर के जरिए अपना आईटी रिटर्न दाखिल कर सकते हैं. हालांकि अभी तक आईटी रिटर्न दाखिल करने के लिए पैन नंबर देना जरूरी था.

देश की  123 करोड़ हिन्दुस्तानियों के लिए आधार पहचान का एक आदर्श और अद्वितीय पहचान संख्या बच चुकी है. 130 करोड़ भारतीय नागरिकों में से अभी 123 करोड़ नागरिकों के पास आधार है. इस बार के बजट में इसे PAN के विकल्प के रूप में पेश किया गया है.  आधार पैन की जगह लेगा या नहीं यह करदाताओं पर निर्भर करती है. ऐसा नाम न बताने की शर्त पर सरकार के दो अधिकारियों ने बताया.क्या आधार कार्ड पैन की जगह ले लेगा ऐसा पूछने पर वित्तमंत्री ने जवाब दिया कि ऐसा अभी सिर्फ लोगों को सहूलियत देने के लिए किया गया है। क्योंकि लोग उनसे पूछ रहे हैँ कि उनके पास पैन नहीं है तो वे आईटी रिटर्न क्यों भरें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*