जब टीम इंडिया की इस महिला क्रिकेटर को करना पड़ा जनरल बोगी में सफर…

sports
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज

लाइव सिटीज डेस्क: भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने शीर्ष तक की अपनी यात्रा को याद किया और खुलासा किया कि भारतीय खिलाड़ी के रूप में उन्होंने ट्रेन में अनारक्षित सीट पर भी यात्रा की.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज हाल ही में बताया कि जब उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की थी तो उन्हें कई तरह के मुश्किलों का सामना करना पड़ा था. मिताली ने कहा कि भारतीय खिलाड़ी के रूप में उन्होंने ट्रेन में जनरल बोगी में सफर किया है. उस समय वो भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सदस्य थी, इसके बावजूद भी उन्हें वो सारी सुविधाए नहीं मिलती थी जो पुरुष खिलाड़ियों को मिला करती थी. इसकी बड़ी वजह महिला क्रिकेटर का बीसीसीआई के अंतर्गत नहीं होना था.



mithali-raj

उन्होंने बताया कि एक बार वो हैदराबाद से दिल्ली की यात्रा वेटिंग टिकट के साथ किया था. उनके पास इतना भी पावर नहीं था कि वह अपने लिए एक सीट की व्यवस्था कर सकें. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भले ही मुझे संघर्षों के गुजरना पड़ा हो, लेकिन उस दौरान मुझे खुद को और बेहतर और सशक्त बनाने का मौका मिला. महिला के रूप में मुझे और मेरी टीम की बाकी खिलाड़ियों को शुरुआत में इतनी ज्यादा चुनौतियों का सामना करना पड़ा कि हम आगे के लिए मानसिक रूप से काफी मजबूत हो गए.

जोधपुर में जन्मीं मिताली ने कहा, ‘लेकिन इन मुश्किलों ने हमें मजबूत बनाया. महिला के रूप में हमें शुरुआती चरण में इतनी अधिक चुनौतियों का सामना करना पड़ा, इसके बाद जब हम परिपक्व हुए और चुनौतियों को स्वीकार किया, इसलिए हम मानसिक रूप से मजबूत हुए.’ मिताली ने याद किया कि किस तरह उनके दादा-दादी उनके खेल से जुड़ने में सहज नहीं थे.

मिताली को महज 21 साल की उम्र में भारतीय महिला टीम का कप्तान बना दिया गया. साल 2013 में मिताली दुनिया की नंबर वन वनडे क्रिकेटर भी रही थीं.

मिताली ने वनडे और टेस्ट क्रिकेट में 50 से ज्यादा के एवरेज से बल्लेबाजी की है. वहीं टी20 क्रिकेट में उनका औसत 40 का रहा है. इसके साथ ही महिला वनडे क्रिकेट के इतिहास में मिताली राज 6000 रन बनाने वाली पहली महिला क्रिकेटर हैं. उन्होंने सिर्फ 183 मैचों में यह कारनामा किया है.

मिताली आज भी भारतीय महिला टीम की कप्तानी कर रही हैं और उनके नेतृत्व टीम ने कई उपलब्धियां भी हासिल कर चुकी है.