IPL 10 : मुंबई-पुणे के बीच खिताबी मुकाबला आज, धोनी पर सबकी नजरें

पटना: IPL 10 के फाइनल मुकाबले में आज हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और राइजिंग पुणे सुपरजाइंट की टीमें खिताब के लिए जोर लगाएंगी. हालांकि आईपीएल 10 में पुणे सुपरजाइंट के फाइनल में पहुंचते ही टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड दर्ज हो गया है. धौनी आईपीएल में सबसे ज्यादा फाइनल मैचों में पहुंचने वाले प्लेयर बन गए है. इससे पहले पिछले 6 सीजन के फाइनल में धोनी बतौर कप्तान खेले हैं और अब 10 साल के इतिहास में ये उनका सातवां फाइनल होगा.

आईपीएल के पहले सीजन में 2008 में धोनी ने बतौर कप्तान चेन्नई सुपर किंग्स को फाइनल में पहुंचाया था. हालांकि यह मैच राजस्थान ने तीन विकेट से जीत लिया था.2010 में धोनी की कप्तानी में दूसरी बार चेन्नई आईपीएल के फाइनल में पहुंची थीं. इसमें मुंबई को 22 रन से मात देकर चेन्नई ने अपना पहला आईपीएल खिताब जीता था. वहीं वर्ष 2011 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 58 रन से हराकर  लगातार दूसरी बार चेन्नई आईपीएल फाइनल जीता. 2012 के फाइनल में कोलकाता नाइटराइडर्स से चेन्नई को हार का सामना करना पड़ा.

2013 में चेन्नई की ओर से धोनी ने नॉटआउट 63 रन की कप्तानी पारी खेली, पर मैच बचा न सके और मुंबई इंडियंस से 23 रन से हार गई. 2015 के फाइनल में चेन्नई का मुकाबला एक बार फिर मुंबई इंडियंस से हुआ. मुंबई के 203 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी चेन्नई 42 रन से हार गई. इसमें धोनी ने 13 बॉल पर 18 रन बनाए थे.महाराष्ट्र की दोनों टीमों के बीच इस महामुकाबले में अंततरराष्ट्रीय क्रिकेट के कई नामचीन सितारों की प्रतिष्ठा भी दांव पर होगी.


रोहित शर्मा बदल सकते हैं मैच का नक्शा
मुंबई ने 2013 और 2015 में आईपीएल खिताब जीता था. मुंबई के पास बेंच स्ट्रेंथ भी अच्छी है. उनके पास लेंड्स सिमंस जैसा खिलाड़ी उपलब्ध हो गया है. मिचेल मैक्लेनघन अगर नहीं उतरते हैं तो उनके पास घातक मिचेल जानसन हैं. नीतीश राणा भी इस सीजन मुंबई के लिए काफी उपयोगी रहे लेकिन जब अंबाती रायडू फिट होकर लौटे तो वह भी उतने ही कारगार साबित हुए.

हरभजन सिंह हमेशा की तरह किफायती साबित हो रहे है, लेकिन लेग स्पिनर कर्ण शर्मा पर टीम प्रबंधन ज्यादा भरोसा कर रहा है.लसिथ मलिंगा और जसप्रीत बुमराह के रूप में उसके पास डेथ ओवरों के लिए दो विशेषज्ञ गेंदबाज मौजूद है. आॅलराउंडर किरोन पोडर्ला, कुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या मुंबई को संतुलन प्रदान कर रहे हैं. फिर कप्तान रोहित शर्मा तो अकेले मैच का नक्शा बदलने का दम रखते हैं.

धोनी पर कप्तान को भरोसा

सुपरजाइंट कप्तान स्टीव स्मिथ आईपीएल 10 में धोनी के अनुभव का पूरा इस्तेमाल करना चाहेंगे. लीग मैच में हैदराबाद के खिलाफ धोनी ने दिखाया कि क्यों उनकी गिनती बेहतरीन फिनिशर के रूप में ​की जाती है. उसके बाद क्वालीफायर—1 में मुंबई के खिलाफ अंतिम दो ओवरों में आतिशी पारी खेली जो पुणे की जीत में टर्निंग प्वाइंट साबित हुई.