साउथ अफ्रीका को कोहली की ललकार, कहा- अब पहले जैसी नहीं हैं टीम इंडिया

virat_kohli
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली

लाइव सिटीज डेस्क: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि भारत की संतुलित टीम दक्षिण अफ्रीका में जीत का सूखा खत्म कर सकती है. दक्षिण अफ्रीका दौरे पर पहली बार संवाददाताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमें पता है कि यहां पर विकेट अलग हैं और हमें बाउंसर मिलेंगी लेकिन हम उस पर बेहतर खेलने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा कि हमारा सबसे बेहतर परिणाम यहां पर 2010-11 में सीरीज ड्रॉ कराकर रहा है, लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह का गेंदबाजी आक्रमण इस समय हमारे पास है और जितनी संतुलित हमारी टीम है, हम निश्चित तौर पर यहां पर जीत दर्ज कर सकते हैं. यहां हमारे पास दो रास्ते नहीं है. हम यहां पर खुद को साबित करने के लिए आए हैं.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का मानना है कि उनकी टीम साउथ अफ्रीका के साल 2013 में हुए आखिरी दौरे के बाद काफी बदल गई है. कोहली ने कहा, हमें यहां जिस भी तरह की चुनौती मिलेगी, हम इसके लिए तैयार हैं. पांच जनवरी आने दीजिए, हम इसके लिए तैयार हैं. भारत ने साल 1992 से दौरा शुरू करने के बाद साउथ अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है और मौजूदा टीम में ऐसे 13 खिलाड़ी हैं, जो यहां 2013-14 के आखिरी दौरे के दौरान खेल चुके हैं. कोहली ने कहा, ‘जहां तक खेल समझाने की बात है, तो हम आखिरी चार साल में काफी आगे बढ़ चुके हैं.’

कोहली ने कहा, ‘व्यक्तिगत रूप से मैं चार साल पहले की तुलना में अब काफी अच्छी तरह से खेल को समझाता हूं. मैंने कई उतार चढ़ाव देखे हैं. हम अभी जहां भी हैं, वहां पूरी तरह से सहज हैं और व्यक्तिगत रूप से और टीम के तौर पर बेहतर स्थिति में हैं.’

उन्होंने कहा, ‘हम जानते हैं कि बतौर टीम कैसे वापसी की जाए, हम जानते हैं कि जब हमें मौका बनाने की जरूरत है, तो इसे कैसे बनाया जाए. पिछले चार साल में टीम में स्थितियों को बेहतर तरीके से पढ़ने की समझ आ गई है और मैं जिस उत्साह की बात कर रहा था, इस समझ से यह उत्साह बना हुआ है. पांच जनवरी को जब मैच शुरू होगा तो हम जानते हैं कि हमें क्या करने की जरूरत है.’

विराट कोहली ने अपनी टीम पर भरोसा जताते हुए कहा कि टीम संतुलित है और साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने का माद्दा रखती है. कोहली ने कहा, ‘हमारे पास सही गेंदबाजी आक्रमण है और टीम के पास हर स्थिति में जीत हासिल करने का संतुलन भी.’

कोहली ने कहा कि ‘हमारे लिए यह सेशन दर सेशन जीतने, वर्तमान में रहने, अपनी योग्यताओं को लागू करने का मसला है न कि हम जिस देश में खेल रहे हैं उसके इतिहास में जाने का. टीम के खिलाड़ियों के पास अच्छा अनुभव है और अब समझ भी कि टेस्ट मैच कैसे जीता जा सकता है.

कोहली ने कहा, ‘कई खिलाड़ी यहां खेले हैं. हम सभी अपने खेल को अच्छे से जानते हैं. एक टीम के तौर पर हमें अपनी व्यक्तिगत योग्यताओं पर भरोसा है. हमें पता है कि हमें मैच के समय क्या करना है. हम जानते हैं कि हमें टेस्ट मैच कैसे जीतने हैं.’

बता दें कि टीम इंडिया साउथ अफ्रीका में 56 दिन के दौरे पर है. जहां वो तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*