नॉर्वे शतरंज टूर्नामेंट : वर्ष के सबसे चुनौतीपूर्ण टूर्नामेंट के लिए तैयार हैं आनंद

aanand

लाइव सिटीज डेस्क : 5 बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद अल्टीबाक्स नार्वे शतरंज टूर्नामैंट में इस वर्ष की अपनी पहली क्लासिकल प्रतियोगिता में दुनिया के अन्य दिग्गज ग्रैंडमास्टर के सामने अपनी चुनौती पेश करेंगे.  इस टूर्नामेंट के लिए फरवरी महीने में ग्रैंडमास्टर के खेलने की सूची तैयार कर दी गई थी. इसके बाद विश्व के शीर्ष-10 दिग्गज खिलाड़ी भी टूर्नामेंट जीतने के लिए अपना दमखम दिखाएंगे.

आनंद के अलावा अन्य दिग्गज खिलाड़ियों पर निगाह रहेगी जिसमें अजरबैजान के शीयार मामडीरोव, चीन के डिंग लारेन, सेर्गेई कर्जेकिन और रूस के अनीश गिरी शामिल हैं. हालांकि भारत के नंबर एक ग्रैंडमास्टर 47 वर्षीय आनंद इस टूर्नामेंट सबसे बड़ी उम्र के खिलाड़ी हैं, जबकि सबसे युवा 23 वर्षीय गिरी हैं.

aanand

विश्व चैंपियन नॉर्वे के मैग्नस कार्लसन तीसरी बार इस टूर्नामेंट में खेलेंगे. पिछले कुछ महीनों में कार्लसन ने क्लासिकल शतरंज नहीं खेला है और वह फिडे ग्रां प्रि सीरीज में भी नहीं खेल रहे हैं. दिग्गज ग्रैंडमास्टर आनंद इस वर्ष अप्रैल में कोर्चनॉय जुरिच शतरंज चैलेंज में खेलने उतरे थे जहां वह तीसरे स्थान पर रहे थे. टूर्नामेंट का पहला राउंड मंगलवार को शुरू होगा. 16 जून तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में नौ राउंड खेले जाएंगे.

यह भी पढ़ें – बैंकों का हजारों करोड़ लेकर चंपत माल्या, भारत-पाक मैच में आया नज़र

प्रतियोगिता में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों का चयन फरवरी में किया गया था. उस समय दुनिया के चोटी के दस खिलाडिय़ों को इसमें खेलने के लिए चुना गया और इस तरह से यह साल का सबसे चुनौतीपूर्ण टूर्नामेंट बन गया.  जब अंतिम चयन किया गया उसके बाद सर्गेई कार्जाकिन और अनीस गिरी की जगह शखरियार मामेदयारोव और डेंग लीरेन शीर्ष दस में शामिल हो गए.  इसमें भाग लेने वाले खिलाडिय़ों की औसत रेटिंग 2797 है.