लापरवाही : करोड़ों रुपये की दवा हो रही है एक्सपायर

gaya

गया : एक ओर सरकार लोगों को सस्ते चिकित्सा की सुविधा मुहैया करा रही है वहीं दूसरी ओर जिला मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों के आंखो के नीचे करोड़ों रुपया की दवा बर्बाद हो रही है. जिन मरीजों के लिए सरकार मुफ्त दवा की व्यवस्था करती है उन मरीजों को दवा नहीं मिल रहा है. मरीजों को दी जाने वाली दवाएं बर्बाद हो रही है. इतनी भारी मात्रा में दवाएं इधर उधर बेकार पड़ी रहती हैं. दवाएं कबसे बर्बाद हो रही है किसी को खबर नहीं.

प्रमंडलीय आयुक्त जितेन्द्र श्रीवास्तव के संज्ञान में मामला आने के बाद मंगलवार की रात जय प्रकाश अस्पताल परिसर में स्थित दो जर्जर भवनों को दंडाधिकारी राजेश्वरी पांडेय ने तलाशी ली. एक भवन के आठ कमरों में भारी मात्रा में जीवन रक्षक दवाइयां लावारिस अवस्था में  पड़ी मिली.  सिविल सर्जन बबन कुवर को डीएम कुमार रवि ने मजिस्ट्रेट जांच की सूचना देते हुए दवा जांच में सहयोग करने का निर्देश दिया.

मजिस्ट्रेट पांडेय ने बताया की बरामद दवा में भारी मात्रा में एक्सपायरी दवा है. रख रखाव के कारण भी भारी मात्रा में दवा बर्बाद हुआ है.
मजिस्ट्रेट पांडेय का कहना है कि स्टोर कीपर अभय शर्मा का तबादला हो चुका है. लेकिन अभय को विर्मित नहीं किया गया.
आयुक्त श्रीवास्तव का कहना है कि इस मामले में जो भी दोषी पाए जाएंगेे उनके खिलाफ विभागीय और कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी.

Golden Opportunity : पटना एयरपोर्ट के पास 1 करोड़ का लग्‍जरी फ्लैट, बुकिंग चालू है

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमेंफ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*