दुल्हन ने मंडप से दिया संदेश, खत्म हो दहेज और समझें बेटी की अहमियत

गया/वजीरगंज(प्रभाकर कुमार) : गया के वजीरगंज में सीएम नीतीश कुमार की पहल दहेज मुक्त विवाह का असर देखने को मिला. सेल्वे गांव के निवासी व समाजसेवी डॉक्टर नौलेश सिंह की छोटी बेटी स्वीटी कुमारी ने अपनी शादी के दौरान समाज में बेटियों की अहमियत समझाई. स्वीटी ने जयमाल की रस्म से पहले दहेज प्रथा को जड़ से मिटाने का संदेश लोगों को दिया.

समाजसेवी नौलेश सिंह की तीसरी बेटी स्वीटी कुमारी ने जयमाला की रस्म के पूर्व अपने अभिभाषण के दौरान उपस्थित लोगों को संदेश दिया, कि जिस प्रकार से नशाखोरी हमारे सभ्य समाज के लिए अभिशाप है, वहीं दूसरी ओर दहेज का प्रचलन भी सभ्य समाज के लोगों के बीच भी एक कलंकित करने की कुरीति है, इसे समाज से प्राथमिकता के साथ दूर किया जाना आवश्यक है.

स्वीटी कुमारी ने कहा कि आए दिन लगभग सभी अखबारों में दहेज उत्पीड़न व दहेज हत्या के मामले प्रकाशित होते रहते हैं, जो बहुत ही गम्भीर मामला है. ना जाने दहेज के चक्कर में अब तक कितनी नवविवाहिताओं की हत्याएं हो चुकी हैं. इस मंच के माध्यम से मैं आग्रह करना चाहूंगी की हमारे बिहार के मुखिया नीतीश कुमार जी के द्वारा ये जो शराबबन्दी के बाद  दहेजबन्दी का क़दम उठाया गया है, लोगों को इसे स्वीकार करना चाहिए.

उन्होंने आगे कहा कि आज भी कई लड़कियां समाज निर्माण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करा रही हैं. एक तरफ़ आईएएस, आईपीएस जैसे उच्च पदों पर आसीन होकर समाज निर्माण में लगी हैं, वहीं दूसरी ओर कहीं नवविवाहिता को रोज़ दहेज रूपी रावण की  प्रताड़ना का शिकार होना पड़ता है. यदि शादी विवाह में दहेज प्रथा का प्रचलन बंद होता है तो माता पिता अपने बेटियों के दहेज का पैसा जमा करने के बजाय उनकी शिक्षा खुलकर खर्च कर पायेंगे.

स्वीटी ने शादी के बाद यह निर्णय लिया की ससुराल जाने के पूर्व गया के एक अनाथ आश्रम में जाकर बच्चों के बीच मिठाई बांटकर एवं उनके साथ कुछ पल बिताएंगी. इस दौरान स्वीटी ने कहा कि ऐसे बच्चों को शादी जैसे समारोह में शिरकत करने का मौका नहीं मिल पाता है. मैं और नये जोड़ों से आग्रह करना चाहूंगी कि आप भी अनाथाश्रम में जाकर अनाथ बच्चों के बिच अपनी खुशियां बांटे.

दुल्हन की इस अनोखी पहल का लोगों ने तहेदिल से स्वागत किया है. साथ ही स्वीटी के पिता डॉ. नौलेश सिंह ने भी अपनी बेटी की प्रशंसा की है. बता दें कि नौलेश की चार बेटियां हैं. इन्होंने अपनी बेटियों को बेटों की तरह शान से पाला है. नौलेश को अपनी बेटियों पर गुरुर है.

बता दें कि स्वीटी पहले भी समाज से जुड़े कामों में लगी रही हैं. स्वीटी  नेहरु युवा केन्द्र के माध्यम से जुड़कर एड्स उन्मूलन कार्यक्रम सहित अनेकों सामाजिक जागरुकता कार्यक्रम में लगी रही हैं. और अब इनका विवाह जहानाबाद निवासी राजकुमार सिंह के तीसरे बेटे लक्ष्मण कुमार के साथ हुआ है.

यह भी पढ़ें-

डीएम के निर्देश पर लाखों की जब्त शराब को किया गया नष्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*