पशु-पक्षियों को गर्मी से बचाने के लिए जगह-जगह गड्‌ढे कर करें जल का संग्रह : डीएम

meeting
गया: जिलाधिकारी कुमार रवि की अध्यक्षता में बढ़ती गर्मी एवं लू की स्थिति को देखते हुए समीक्षा बैठक हुई. जिलाधिकारी ने नगर निगम क्षेत्र में प्याऊ की समुचित व्यवस्था की जरूरत बताते हुए नगर निगम, गया के आयुक्त एवं नगर पंचायत, बोधगया, टिकारी एवं शेरघाटी के कार्यपालक पदाधिकारी को समुचित प्याऊ की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु पत्र देने का निर्देश दिया. ग्रामीण क्षेत्रों में चापाकल मरम्मती की स्थिति के संबंध में कार्यपालक अभियंता पीएचईडी से जानकारी ली गई.
प्रत्येक प्रखंड हेतु प्रतिनियुक्त चापाकल मरम्मती दल द्वारा की गई. कार्रवाई के विषय में पूछा गया. उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्राें एवं विद्यालयों जहां चापाकल खराब है या जरूरत है प्राथमिकता के आधार पर मरम्मती एवं लगाने का निर्देश कार्यपालक अभियंता को दिया. पशु—पक्षियों के लिए इस तपती गर्मी में पेय जल हेतु जगह जगह गड्ढ़े कर जल संग्रह करने का निर्देश दिया. सिविल सर्जन से पूछा कि लू प्रभावित लोगों के इलाज की क्या व्यवस्था की गई है. अभी तक अधिक संख्या में प्रभावित मरीज नहीं आने की जानकारी दी गई. उनके लिए आईसोलेशन वार्ड तैयार रखने को कहा गया.
जिला अग्निशमन पदाधिकारी से पूछा कि अबतक जिला में कितनी अगलगी की घटना हुई है. बताया गया कि अबतक 58 घटनाएं अगलगी की हुई है जो पूर्व वर्ष से काफी कम है. सहायता उपलब्ध कराने हेतु मुखिया स्तर से सूचनाएं दी जा रही है. जिलाधिकारी ने अग्निशमन वाहनों हेतु वाहन चालक की कमी के विषय में पूछा. सभी पंचायतों में जलस्रोत को चिन्हित करने, कम्युनिकेशन प्लान तैयार रखने का निर्देश जिला अग्निशाम पदाधिकारी को दिया गया. उन्होंने बिजली शार्ट सर्किट, खाना बनाने, खलिहान आदि विभिन्न कारणों से हुई अगलगी को वर्गीकृत कर प्रतिवेदन तैयार करने का निदेश दिया.
बिजली के अवैध कनेक्शन के कारण हुई आगलगी मे  कार्यपालक अभियंता विद्युत् को छापामारी का निर्देश दिया गया. विद्युत् आपूर्तिं की स्थिति के संबंध में जानकारी ली गई. बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में 15 घंटे से बढाकर 23 घंटे करने की कार्रवाई की जा रही है. नगर क्षेत्र में इंडिया पावर ने बताया कि स्थिति में सुधार आया हैं.
दस मई तक 23 घंटे आपूर्तिं दी जा रही है. जिलाधिकारी ने कहा कि बोधगया में बुद्ध जयंती के दौरान कई बार बिजली कटी है जबकि निर्देश दिए गये थे कि निरंतर बिजली आपूर्ति की जाए. पिछले दिनों पेयजल आपूर्ति की समस्या आदि के संबंध में विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित समस्याओं के आधार पर जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता पीएचईडी को यथाशीघ्र कार्रवाई कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया. आपदा प्रबंधन प्रभारी को बढ़ती गर्मी एवं लू की समस्या का नियमित अनुश्रवण हेतु अनुश्रवण समिति का गठन करने का निर्देश दिया गया.
ये थे उपस्थित
बैठक में अपर समाहर्त्ता, सिविल सर्जन, कार्यपालक अभियंता विद्युत/पीएचईडी, इंडिया पावर के प्रतिनिधि, जिंला अग्निशाम पदाधिकारी, प्रभारी पदाधिकारी आपदा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*