गया: स्टाफ की उपस्थिति को लेकर DM हुए सख्त, जानिए उन्होंने क्या दिया है निर्देश

गया (पंकज कुमार): कार्यालय पहुंचने के उपरांत आज पूर्वाहन जिलाधिकारी कुमार रवि ने विभिन्न शाखाओं के प्रधान लिपिक से अपनी अपनी शाखाओं की उपस्थिति पंजी मंगवाई. उपस्थिति पंजी के अवलोकन के उपरांत अनेक कर्मचारियों की उपस्थिति काटी गई. साथ ही उनके 1 दिन के वेतन की कटौती का आदेश दिया गया है. इनमें  शामिल हैं—

जिलाधिकारी कुमार रवि, गया
  • बिहार राज्य खाद्य निगम के स्वीटी कुमारी
  • रविंद्र कुमार डाटा एंट्री ऑपरेटर
  • संतोष कुमार कार्यपालक सहायक
  • राज्य खाद्य निगम के देवेंद्र प्रसाद सिंह सहायक
  • चंदन कुमार निम्नवर्गीय लिपिक
  • पिंटू कुमार निम्नवर्गीय लिपिक
  • रामसुंदर मिलकी
  • भू—अर्जन कार्यालय के कृष्ण कुमार एवं मनोज कुमार
  • नजारत शाखा के इकबाल माली
  • स्थापना शाखा के रंजीत कुमार, निर्दोष कुमार, महताब आलम एवं अरविंद कुमार धीरज
  • राजू कुमार कार्यालय परिचारी
  • धर्म प्रकाश टेपो
  • जिला प्रोग्राम कार्यालय के उच्च वर्गीय लिपिक सुरेंद्र कुमार, मोहम्मद जमाल अख्तर एवं राकेश कुमार लोहड़ी
  • सुबोध कुमार अनुसेवक
  • भविष्य निधि कार्यालय के उदय कुमार, पवन कुमार एवं सरवन कुमार
  • राजस्व कार्यालय के अभय कुमार एवं प्रभात चंद्र झा
  • आशुलिपिक अर्चना सिन्हा
  • कार्यालय सहायक राकेश कुमार, मनोज कुमार एवं तेजन ठाकुर सभी कार्यालय परिचारी
  • रिंकी कुमारी, डाटा एंट्री ऑपरेटर
  • निशांत कुमार कार्यपालक सहायक
  • कोषागार के विजय कुमार सिन्हा, सुनील कुमार, रामजतन पासवान, कौशलेंद्र कुमार एवं सुमन कुमार सिंह
  • विधि शाखा के अरुण कुमार, गीता देवी, मनीष कुमार एवं प्रीतम कुमार
  • नीलाम पत्र कार्यालय के महमूद अली
  • कल्याण शाखा के धीरज कुमार
  • लिपिक, रमेश कुमार रजक एवं मोहम्मद शब्बीर आलम
  • कार्यालय परिचारी परिवहन कार्यालय के अतुल कुमार, नेहाल अहमद, प्रसन्नजीत कुमार, रतन कुमार एवं रजत कुमार
जिलाधिकारी कुमार रवि, गया

इनमें कई कर्मचारी 3 दिनों से भी अनुपस्थित पाए गए हैं. सभी शाखा के प्रधान सहायक को प्रतिदिन उपस्थिति पंजी पर सबसे नीचे अपना हस्ताक्षर अंकित करने का निर्देश दिया गया है. इन कर्मियों से स्पष्टीकरण पूछा जा रहा है. तत्काल एक दिन का वेतन स्थगित करने का आदेश जिलाधिकारी ने दिया है.

गया: पप्पू यादव ने नक्सल समस्या के लिए नेताओं को बताया जिम्मेवार

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*