महाबोधि मंदिर परिसर की सुरक्षा व्यवस्था में कोताही बर्दाश्त नहीं : IG नैय्यर हसनैन

IG-patna
जोनल आईजी नैयर हसनैन खान

लाइव सिटीज, गया से पंकज कुमार : अन्तर्राष्ट्रीय बौद्ध पर्यटक स्थल बोधगया में स्थित महाबोधि मंदिर परिसर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आज उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक हुई. ज़ोनल आईजी नैय्यर हसनैन खान की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में स्थानीय दुकानदार और नगरवासियो के आन्दोलन से सम्बंधित मामले की समीक्षा की गई. ज़ोनल आईजी नैय्यर हसनैन खान ने अधिकारियों से कहा कि वे दुकानदार और नगरवासियो के द्वारा नई ट्रैफिक नीति के विरोध के मद्देनजर समस्या के समाधान के लिए पहल करें. स्थानीय लोगों के साथ बातचीत कर समाधान निकालने के लिए पहल करें.

ज़ोनल आईजी नैय्यर हसनैन खान ने साथ ही स्पष्ट रूप से कहा कि महाबोधि मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था राज्य सरकार की प्राथमिकता सूची में शामिल हैं. सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कोई समझौता नहीं किया जा सकता है. समीक्षा बैठक में मगध क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक बिनय कुमार, जिलाधिकारी अभिषेक कुमार सिंह, एसएसपी गरिमा मलिक, सिटी एसपी डॉ. ग़ौरव मंगला, एसडीओ सदर विकास जायसवाल सहित कई प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी उपस्थित थे.

ज़ोनल आईजी नैय्यर हसनैन खान ने समीक्षा बैठक के बाद बताया कि महाबोधि मंदिर परिसर में बैरक, वाच टावर सहित अन्य सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की गई. अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कोई कोताही नहीं बरते. राज्य सरकार की प्राथमिकता सूची में महाबोधि मंदिर परिसर की सुरक्षा व्यवस्था शामिल है. उन्होंने कहा कि बोधगया के डीएसपी और एसएचओ को प्रति दिन महाबोधि मंदिर परिसर की सुरक्षा व्यवस्था की जांच सुनिश्चित करने को कहा गया है. साथ ही सिटी एसपी डॉ ग़ौरव मंगला को आदेश दिया गया है कि वे सप्ताह में कम से कम एक दिन स्वयं मन्दिर की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा औचक निरीक्षण कर सुनिश्चित कर करें.

उन्होंने कहा कि महाबोधि मंदिर परिसर और आसपास के इलाकों में वाहन और लोगों को कड़ी सुरक्षा जांच के बाद ही आगे जाने की इजाजत दी जाए. आज की तारीख में सुरक्षा व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के लिए क्या-कया संसाधन और चाहिए, इस सम्बंध में प्रस्ताव पुलिस मुख्यालय भेजे.

आईजी खान ने कहा कि स्थानीय दुकानदार और नगरवासियों के साथ अधिकारी संवाद कर समस्या का समाधान निकालने के लिए पहल करें. यह बात बैठक में शामिल अधिकारियों से कहा गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*