अब Google Assistant से बात करें हिंदी में, तरीका हम बता रहे हैं

लाइव सिटीज डेस्क : Google Assistant ने अब हिंदी में भी समझना शुरू कर दिया है. यह सुविधा उन भारतीय यूज़र के लिए है जिन्होंने अपने एंड्रॉयड डिवाइस में लैंग्वेज़ प्रीफरेंस के तौर पर अंग्रेजी को रखा हुआ है. इस ताजा फैसले के साथ, गूगल अब अमेज़न के एलेक्सा और ऐप्पल के सीरी से एक कदम आगे निकल गया है. बता दें कि ये दोनों वॉयस असिस्टेंट अभी हिंदी भाषा को सपोर्ट नहीं करते. बता दें कि गूगल असिस्टेंट के लिए हिंदी पोर्ट पूरी तरह से नया नहीं है क्योंकि गूगल अलो को दिसंबर, 2016 में हिंदी सपोर्ट मिला था और गूगल ने पिछले महीने भारत में जियो फोन के लिए हिंदी व अंग्रेजी भाषा के सपोर्ट वाले गूगल असिस्टेंट वर्ज़न को भी प्रदर्शित किया था.

गूगल असिस्टेंट में अभी हिंदी के लिए सपोर्ट सीमित है. आप असिस्टेंट को अपनी कमांड हिंदी में दे सकते हैं. इसके लिए आपको वर्चुअल असिसस्टेंट को “Hey Google” या “OK Google” कहकर एक्टिव करना होगा. इसके बाद असिस्टेंट कमांड को अंग्रेजी में ट्रांसक्राइब करेगा लेकिन आपको जवाब हिंदी में मिलेगा. इसके अलावा, गूगल असिस्टेंट से जवाब पाने के लिए आप अपनी हिंदी की पूछताछ को अंग्रेजी में ट्रांसलिट्रेट भी कर सकते हैं. परिणाम की उपलब्धता के अनुसार, आपको प्रतिक्रिया हिंदी या अंग्रेजी में मिल जाएगी.

गूगल के एक प्रवक्ता ने मीडिया को बताया कि गूगल असिस्टेंट के लिए हिंदी भाषा के सपोर्ट को अभी लॉन्च नहीं किया गया है और फिलहाल यह सपोर्ट अलो मैसेजिंग ऐप में गूगल असिस्टेंट के साथ ही उपलब्ध है. हालांकि, कंपनी ने स्पष्ट कर दिया है कि असिस्टेंट अब कुछ चुनिंदा हिंदी पूछताछ के लिए सपोर्ट करता है.

इस आसान तरीके से अपने नाम का रिंगटोन मोबाइल में करें सेट, बिलकुल Free है

गूगल असिस्टेंट द्वारा आपकी हिंदी की पूछताछ को समझने के लिए, यूज़र को अपने एंड्रॉयड डिवाइस में प्राइमरी भाषा के तौर पर अंग्रेजी (इंडिया) को सेट करना होगा. English (India) को प्राइमरी भाषा सेट करने के लिए Settings > Languages & input > Languages > Add a language > English (India) में जाना होगा. एक बार ऐसा करने के बाद, आपको होम बटन को देर तक दबाए रखना होगा और इसके बाद नीचे की तरफ बने माइक्रोफोन आइकन पर टौप करना होगा या फिर गूगल असिस्टेंट पर हिंदी इस्तेमाल करने के लिए “Hey Google” या “OK Google” कहना होगा. गौर करने वाली बात है कि नया फ़ीचर तब काम नहीं करेगा जबकि आपने अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर हिंदी को प्राइमरी भाषा के तौर पर सेट किया है.

हमने एंड्रॉयड ओरियो व नूगा पर चलने वाले कई स्मार्टफोन पर गूगल असिस्टेंट में हिंदी पूछताछ की टेस्टिंग की और इसने ठीक तरह काम भी किया. इस फ़ीचर के पुराने एंड्रॉयड वर्ज़न पर भी काम करने की उम्मीद है क्योंकि गूगल असिस्टेंट को एंड्रॉयड 5.0 लॉलीपॉप और इसके बाद के एंड्रॉयड वर्ज़न के लिए भी हाल ही में सपोर्ट मिला है.

पिछले साल हुए Google for India इवेंट में गूगल ने गूगल असिस्टेंट के कंटेट को बढ़ाने के लिए स्थानीय पार्टनर और न्यूज़ प्रोवाइडर के साथ साझेदारी की है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*