अब आपके पास होगा तीसरा हाथ, खाना भी खिलाएगा ये रोबोटिक आर्म

Robotic-arm
Robotic-arm

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: अगर आप किसी काम में व्यस्त है और आपको उसी समय जोर की भूख लगी हो तो आप क्या करेगे? जाहिर सी बात है आप दोनो में से किसी एक काम को प्रायोरिटी देंगे. लेकिन अगर आप दोनों काम एक साथ कर सके तो, और इस काम में आपकी मदद एक मशीन करे जिससे आपको कोई दिक्कत न हो तो कितना अच्छा होगा ना! तो आपकी कई सारी दिक्कतें अब खत्म होनेवाली है. वैज्ञानिको ने एक ऐसा रोबोटिक हाथ बनाया हे जो आपको खाना खिलाएगा.

भारतीय और आॅस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों द्वारा मिलकर डिजाइन किए गए इस रोबोटिक आर्म का नाम है आर्म—ए—डाईन’. यानी एक ऐसा हाथ जो आपको खाना खिलाएगा. इस रोबोटिक आर्म को मुख्य तौर पर खाना खिलाने के लिए ही डिजाइन किया गया है. हालांकि अभी ये सिर्फ एक प्रोटोटाईप है. आपको बता दे कि इस रोबोटिक आर्म को आॅस्ट्रेलिया की आरएमआईटी और भारत की आइआईआईटी डिजाइन की एक्सर्सन लैब में तैयार किया गया है.

Robotic-arm1
Robotic-arm1

अपने शोध पत्र में शोधकर्ताओं ने बताया है कि दुनिया में ज्यादातर रोबोटिक आर्म खाना बनाने के लिए होते हैं लेकिन ये आर्म आपको खाना खिलाने के लिए ही डिजाइन किया गया है. शोधकताओं की माने तो आज की दुनिया मेें अकेलापन एक बड़ी महामारी है. जहां आज ज्यादातर लोग मोबाइल में ही बीजी रहते हुए सारे काम करते हैं ऐसे में ये रोबोटिक आर्म आपके लिए आपके मुंह तक खाना पहुंचायेगा.

आपके मन के हिसाब का खाना आपको खिलाएगा

इस रोबोटिक आर्म की सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये आपको कुछ भी उठाकर सर्व नहीं कर देगा. बल्की ये आपको आपके मन के हिसाब से ही खाना खिलाएगा. इस रोबोटिक आर्म में लगा एक समार्ट फोन एप की मदद से आपके और आपके पार्टनर का फेसियल एक्सप्रेशन देखकर उसके हिसाब से ही खाना खिलाएगा.

वही अगर आप गुस्सा या नाराज हैं तो आपको ये रोबोटिक आर्म खाना नहीं खिलाएगा. आपको बता दे कि ये रोबोटिक आर्म सिर्फ उपर या नीचेमूव कर सकता है. इस लिए आपको बस इसके सामने मुहं ले जाने का थोड़ा सा कष्ट करना पड़ेंगा.

इस रोबोटिक आर्म को आप आपने चेस्ट पर पहन सकते हैं. उसके बाद ये आर्म अपना काम शुरू कर देता है.हालांकि अभी ये आर्म बहुत ही कम स्तर पर ही काम कर सकता है लेकिन ये आपको खाना खाने का एक बेहतर और नया अनुभव देगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*