1 फोन में अच्छी फोटो के लिए कितने कैमरे जरूरी हैं, Triple कैमरे के नाम पर आप बन रहे बेवकूफ?

लाइव सिटिज डेस्क : किसी भी स्मार्टफोन से एक अच्छी क्वालिटी की फोटो खींचने के लिए कितने कैमरे वाला स्मार्टफोन जरूरी है? यह एक ऐसा सवाल है, जिसे हर यूजर स्मार्टफोन खरीदने से पहले खुद से जरूर पूछता है. ऐसे में इसका पहला जवाब जो मिलता है वो है हां, यानी की जितना ज्यादा कैमरा उतनी ही अच्छी फोटो, लेकिन अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो, हमारी यह खबर पूरी पढ़िए और आपकी सोच बदल जाएगी.

7 कैमरों वाला स्मार्टफोन

दरअसल फोन में कितने कैमरे हों इसकी कहानी शुरू होती है उन स्मार्टफोन्स से जिनमें आपको 1 रियर और 1 फ्रंट कैमरा मिलता था. इसके बाद Dual Camera का दौर आया, जिसमें आपको 2 रियर और 1 फ्रंट कैमरा मिलता है. इसके बाद कुछ स्मार्टफोन कंपनियां ने Triple Camera के कॉन्सेप्ट को यूजर्स के सामने रखा. इनमें 2 रियर और 2 फ्रंट कैमरा या फिर 3 रियर और 1 फ्रंट (Huawei P20 Pro) कैमरा शामिल हैं. वहीं हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक Nokia 9 में 7 कैमरे दिए जा सकते हैं, जिनमें 5 शूटर्स इसके बैंक में होंगे और 2 फ्रंट में. ऐसे में फिर से वही सवाल कि एक स्मार्टफोन में अच्छी फोटो के लिए कितने कैमरे जरूरी हैं?

Primary Camera है बॉस

Primary Camera, जैसे कि इसके नाम से ही पता चल रहा है कि यह किसी भी फोन का मेन कैमरा होता है. इसके अलावा फोन में आपको कैमरे मिलते हैं वो सेकेंडरी होते हैं। ऐसे में Single, Dual या Triple कैमरा आपके फोन में एक्ट्ररा फीचर तो दे सकता है, लेकिन एक बेहतरीन फोटो के लिए जरूरी है कि फोन का Primary Camera (Main Camera) अच्छा हो. अगर आपके फोन का प्राइमरी कैमरा अच्छा नहीं है, तो 10 कैमरे भी आपको अच्छी फोटो नहीं दे सकते हैं.

 

इस स्मार्टफोन्स में हैं कितने कैमरे?

अगर आपसे पूछा जाए कि किस फोन में आपको सबसे अच्छी फोटो क्वालिटी मिलती है तो, आपका जवाब होगा Google या फिर Apple के स्मार्टफोन्स में. बात करते हैं Google के स्मार्टफोन्स की.

Google Pixel 2 और Google Pixel 2 XL ये दुनिया के उन स्मार्टफोन्स में आते हैं जिनमें आपको सबसे अच्छी फोटो क्वालिटी मिलती है, लेकिन अगर आपके पूछा जाए कि Google Pixel 2 में कितने कैमरे लगे हैं, तो आपका जवाब होगा 2, एक 12 मेगापिक्सल का रियर कैमरा और दूसरा 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा.

Google के इन स्मार्टफोन्स में मिलने वाली बेहतरीन क्वालिटी का सबसे बड़ा कारण हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर है। Google Pixel 2 की बात करें तो इसमें 12 मेगापिक्सल का रियर कैमरा लगा है, जिसमें 27 एमएम का वाइड लेंस और f/1.8 का अपर्चर मिलता है. इसके अलावा इसमें आपको 1.4µm का बड़ा पिक्सल पिच मिलता है. यानी की फोन का हार्डवेयर(कैमरा) जो डाटा कैप्चर करता है, उस डाटा को Google के सॉफ्टवेयर ग्रुम(निखार) करते हैं. फोन के सॉफ्टवेयर फोटो के कलर और क्वालिटी को निखार देते हैं, जिससे आपको Google Pixel 2 स्मार्टफोन से Samsung Galaxy S9 और Huawei P20 Pro के मुकाबले ज्यादा डायनेमिक इमेज मिलता है. Google अपने इस सॉफ्टवेयर फीचर को Computational Photography कहता है. अगर आप ध्यान दें तो, Google अपने Pixel 2 में Portrait Mode भी देता है, जिसमें आपको Dual Camera से भी ज्यादा स्टेबल और डेप्थ मिलती है.

Apple ने iPhones में शुरू किया ट्रेंड

Dual Camera के ट्रेंड को Apple ने अपने iPhone 7 Plus से शुरू किया था। इस फोन में 2 रियर कैमरे दिए गए थे. इस फोन को उन यूजर्स को ध्यान में रख कर बनाया गया था जो, बड़े फोकल लेंथ के साथ ऑप्टिकल जूम जैसे फीचर्स को पसंद करते थे. iPhone 7 Plus के प्राइमरी कैमरे में 27mm फोकल लेंथ का प्राइमरी कैमरा दिया गया, जो वाइड एंगल फोटो कैप्चर के लिए था. वहीं सेकेंडरी कैमरी में 56mm (2X optical zoom) का लेंस दिया गया. इस ट्रेंड को दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों ने भी अपने प्रोडक्ट में शामिल किया, लेकिन उनमें यूजर्स को वो क्वालिटी नहीं मिली जो iPhone 7 Plus में थी.

iPhone 7 Plus के ट्रेंड को आप Samsung Galaxy Note 9 में देख सकते हैं. वहीं हाल में आए OnePlus 6 में भी Dual Camera दिया गया है, लेकिन दोनों ही कैमरों के फोकल लेंथ एक बराबर हैं. Huawei P20 Pro Triple Rear कैमरे के साथ लॉन्च हुआ. इसमें पहला रेगुलर कैमरा है, दूसरा ऑप्टिकल जूम के लिए और तीसरा मोनोक्रोम के लिए.

क्यों इस्तेमाल होते हैं मल्टीपल कैमरा

फोटोग्राफी के हिसाब से स्मार्टफोन की सबसे बड़ी मजबूरी इसकी साइज होती है. इनमें आपको DSLR कैमरा जैसी सुविधा नहीं मिलती है, जहां आपके कैमरे का लेंस मूव(Move) कर सके. एक से ज्यादा कैमरा इसी मजबूरी का तोड़ है. यानी जैसे आप अपने DSLR में लेंस को मूव करके डेप्थ क्वालिटी पाते हैं, वैसे ही स्मार्टफोन में एक से ज्यादा कैमरे की मदद से आप 2X optical zoom जैसे फीचर्स पाते हैं. यानी की मल्टीपल कैमरा की मदद से आप ज्यादा डायनेमिक फोटो पाते हैं.

प्राइमरी कैमरा बनाम मल्टीपल कैमरा

जैसा कि हमने शुरू में कहा था कि क्या सबसे अच्छे फोटो के लिए मल्टीपल यानी Dual या Triple कैमरा जरूरी है, तो उसका जवाब है नहीं. अगर आपके फोन का प्राइमरी कैमरा शानदार है तो, बिना मल्टीपल कैमरे के भी आप अच्छी फोटो पा सकते हैं. इसके लिए जरूरी है कि आपके फोन का हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों ही फोटोग्राफी को ध्यान में रख कर बनाए गए हों. वहीं, अगर आपका प्राइमरी कैमरा खराब है तो, मल्टीपल कैमरा बस सुनने में ही अच्छे लगेंगे, फोटो पर इसका कोई असर नहीं दिखेगा.

आखिर में अगर आपके फोन का प्राइमरी कैमरा भी शानदार है और उसमें ज्यादा फोकल लेंथ वाले मल्टीपल कैमरे मिलते हैं तो, इससे अच्छा आपके लिए कुछ नहीं हो सकता है.

About Ritesh Sharma 3275 Articles
मिलो कभी शाम की चाय पे...फिर कोई किस्से बुनेंगे... तुम खामोशी से कहना, हम चुपके से सुनेंगे...☕️

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*