जमुई/ राजेश कुमार : जमुई में पेसेंट की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने बीच शहर स्थित एक डाक्टर के क्लिनिक में भारी तोड़ फोड़ की. इस दौरान आक्रोशित भीड़ ने डाक्टर पिता पुत्र के साथ हाथापाई भी की साथ ही क्लिनिक के पार्किग में खड़ी डाक्टर की कार को क्षतिग्रस्त कर उसे आग के हवाले कर दिया. भीड़ इतनी आक्रोशित थी कि मौके पर बड़ी अनहोनी की आशंका दिखने लगी थी.

खबर मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को भांपते हुए बल प्रयोग व परिजनों को समझा बुझा कर स्थिति को नियंत्रित किया तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा. एंबुलेंस द्वारा सदर अस्पताल भेजे गए शव के पीछे पीछे भीड़ भी अस्पताल पहुंच गई. अस्पताल परिसर में जमी आक्रोशित भीड़ का आरोप था कि इलाज के क्रम में लापरवाही की वजह से पेसेंट की जान चली गई. परिजन बार बार डाक्टर की गिरफ्तारी की मांग पुलिस से कर रहे थे.

मौके पर पहुंचे एसपी द्वारा मरीज के शव को चिकित्सकों की टीम द्वारा पोस्टमार्टम तथा डॉ के विरुद्ध उचित कार्रवाई किए जाने का भरोसा दिलाने के बाद मृतक के परिजन व आक्रोशित भीड़ शांत हुई. बताया जाता है कि सिरचंद नवादा निवासी रघुनाथ साह का 24 वर्षीय पुत्र कुंदन उर्फ मणि सात दिन पहले बाइक से गिर पड़ा था और उसका हांथ टूट गया था. टूटे हाथ का ऑपरेशन करवाने वह बुधवार को डा अरूण कुमार सिंह व उनके चिकित्सक पुत्र डॉ विशाल आनंद के क्लिनिक पर आया था.

परिजनों का आरोप है ऑपरेशन के दौरान ही कुंदन की मौत हो गई. मौत की खबर फैलते ही क्लिनिक में भीड़ जुटनी शुरू हो गई और उग्र होकर क्लिनिक में तोड़फोड़ शुरु कर दिया. चिकित्सक पिता-पुत्र की पिटाई के साथ ही बाहर खड़ी वाहन को भी भीड़ ने आग के हवाले कर दिया. घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने हल्के बल प्रयोग के साथ लोगों को समझा बुझा कर शांत किया. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है. चिकित्सक के क्लिनिक के बाहर पुलिस का पहरा लगा दिया गया है. पुलिस अधीक्षक डॉ इनामुल हक मेंगनू व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी रामपुकार सिंह ने मामले की जांच कर विधि सम्मत कार्रवाई किए जाने की बात कही है.