जमुई : अवैध शराब कारोबार में बाधा बन रही थी पत्नी, पति ने कर दी हत्या

जमुई, ( राजेश कुमार ): नारी सशक्तिकरण के नारों और आधी आबादी के हक की ऊंची सोच के बावजूद वह अबला थी. उसका कसूर सिर्फ इतना था कि वह अपने पति के काले कारनामों का विरोध करती थी. वह चाहती थी कि शराब के अवैध कारोबार में संलिप्त उसका पति कोई अच्छा सा रोजगार करे ताकि वो अपने पति और दो बच्चों के साथ सुकून भरी ईज्जत की जिन्दगी जी सके. गलत काम कर उसके पति का जेल जाना उसे कचोटता था. अभी 8 दिन ही हुए हैं कि उसने अपने मायके वालों को फोन कर कहा था कि ससुराल में उसके साथ बुरा बर्ताव होता है. उसके और उसके दोनों बच्चों के साथ मारपीट की जाती है. उसने अपनी हत्या की आशंका भी मायके वालों को फोन पर जाहिर कर दी थी. लेकिन उसके ससुराल वालों के पैसों की धमक के आगे मायके वाले बेबस और लाचार थे. उन्हें लगता था की उनके चुप रहने से धीरे-धीरे सब कुछ ठीक हो जाएगा. पर ऐसा हो न सका. सारे कयास धरे के धरे रह गए और खबर आ गई कयामत की. बीते मंगलवार को उस अबला की संदेहास्पद मौत हो जाती है और गुप-चुप तरीके जमुई से गया ले जाकर पति उसका दाह संस्कार भी कर देता है.

खबर है जमुई से जहां एक विवाहिता की उसके पति ने हत्या कर दी है. जमुई टाउन थाना को दिए गए आवेदन में मृतक विवाहिता के भाई टिंकू बरनवाल ने अपने बहनोई पर बहन की हत्या का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई है. शुक्रवार को गिरिडीह के इसरी से जमुई पहुंचे मृतक विवाहिता के भाई टिंकू ने बताया की बीते 16 जुलाई को उसकी बहन सोनी देवी की हत्या कर गया में उसका दाह संस्कार कर दिया गया. बच्चों का पता पूछने पर ससुराल वाले कभी पटना तो कभी गया में उनके होने की बात कह कर उन्हें बरगला रहे हैं . जबकि इन जगहों पर खोज खबर करने के बावजूद बच्चों का कोई अता पता नहीं चल रहा. हालांकि काफी जद्दोजहद के बाद बच्चों को उन्हें सौंप दिया गया है.

गिरिडीह जिला के निमियाघाट थाना क्षेत्र अंतर्गत इसरी बाजार निवासी शंकर प्रसाद वर्णवाल के पुत्र टिंकू कुमार वर्णवाल ने नगर थाना जमुई में आवेदन देकर कहा है कि उसकी बहन सोनी देवी के शादी जमुई जिला अंतर्गत मलयपुर थाना क्षेत्र के मलयपुर गांव निवासी विजय वर्णवाल के पुत्र रंजीत वर्णवाल के साथ 10 वर्ष पूर्व हिंदू रीति-रिवाज से हुई थी. बाद में यह शादी धनबाद कोर्ट से भी हुई. वर्तमान में उसकी बहन अपने पति के साथ जमुई स्थित शास्त्री कॉलोनी में एक निजी मकान में रह रही थी. शादी के उपरांत उसकी बहन को एक पुत्र आयु राज एवं एक पुत्री माही हुई. परिवार में सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था. शराबबंदी के बावजूद उसका बहनोई शराब के अवैध कारोबार में लिप्त था. जिस क्रम में वह जेल भी गया. पति के शराब कारोबार का विरोध उसकी बहन लगातार करती थी. इस बात को लेकर पति रंजीत उसकी बहन के साथ अक्सर मारपीट करता था. आर्थिक लाचारी के कारण मायके वाले खुलकर उसका विरोध नहीं कर पा रहे थे. इसी दौरान बीते मंगलवार 16 जुलाई  को टिंकू के मौसेरे भाई बिट्टू कुमार वर्णवाल द्वारा सूचना मिली की उसकी बहन की हत्या कर उसकी लाश को गायब कर दिया गया है. साथ में दोनों बच्चों का भी कोई अता पता नहीं है.

यहां यह भी बता दें कि रंजीत वर्णवाल विकलांग है और विभिन्न आरोपों में कई बार जेल भी जा चुका है. इस बावत जमुई टाउन थानाध्यक्ष राजेश शरण ने बताया कि मामला संदेहास्पद है और आरोपों की गंभीरता पूर्वक जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि दोषी पाए जाने पर कारवाई होगी. थानाध्यक्ष ने कहा कि मामले की सूचना वरीय अधिकारियों को दे दी गई है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*