जमुई : स्वच्छ नगर सुंदर जमुई का नारा हुआ खोखला, कबाड़ बनी कचरा ढोने वाली गाड़ियां

स्वच्छ नगर सुंदर जमुई का नारा आए दिन खोखला साबित हो रहा

लाइव सिटीज, जमुई (राजेश कुमार) :  स्वच्छ नगर सुंदर जमुई का नारा आए दिन खोखला साबित हो रहा है. नगर परिषद की कूड़ा ढोने वाली एक दर्जन गाड़ियां कबाड़ बनी हुई हैं. ये नगर परिषद की शोभा बढ़ा रही हैं. नतीजतन शहर में जहां-तहां कूड़ों का अंबार लगा हुआ है. तकरीबन 15 से 20 दिनों से नगर परिषद के सफाई कर्मियों द्वारा कूड़ा उठाया नहीं जा रहा है.

सुपरवाइजर की मानें तो नगर परिषद में 26 से 27 छोटी- बड़ी गाड़ियां हैं. इनमें 12 से अधिक गाड़ियां खराब है. वहीं नगर परिषद के बड़ा बाबू त्रिपुरारी ठाकुर से पूछने पर उन्होंने तो पहले ये सब बातें बताने से इनकार कर दिया. फिर दबी जुबान से कहा कि नगर परिषद में कुल 15 सफाई गाड़ी है जिनमें छह गाड़ी खराब हुई थी. सभी को बनाने के लिए भेज दिया गया है. जबकि हकीकत यह कि सारी खराब गाड़ियां बनने के लिए नहीं गई हैं, बल्कि नगर परिषद के मुख्य द्वार पर खड़ी होकर नगर परिषद की शोभा बढ़ा रही हैं.

 

बताया जाता है कि गाड़ियों के खराब होने में बड़ा घालमेल है. 15 दिनों से खराब पड़ी गाड़ियों को बनवाना उचित नहीं समझा जा रहा है. पदाधिकारी से लेकर संवेदक तक लापरवाह बने बैठे हैं. सूत्रों की मानें तो सफाई वाहन तकरीबन एक महीने से खराब पड़ी है लेकिन कागजों पर सभी वाहनें चल रही है.

वहीं नगर थाने की पुलिस ने लगमा नहर से बालू लदे तीन ट्रैक्टर को जब्त किया है. हालांकि मौके से किसी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है. प्रभारी थानाध्यक्ष सुदर्शन राम ने बताया कि गुप्त सूचना मिली की लगमा नहर से ट्रैक्टर पर बालू की अवैध ढुलाई की जा रही है. जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी कर तीन ट्रैक्टर को जब्त कर लिया. जब्त ट्रैक्टर के मालिक से खनिज विभाग द्वारा जुर्माना वसूला जाएगा. प्रभारी थानाध्यक्ष ने कहा कि किसी भी हाल में बालू उत्खनन नहीं होने दिया जाएगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*