जमुई पुलिस और जिला प्रशासन की उपस्थिति में नक्सल पीड़िता नेहा की शादी हुई संपन्न

जमुई, ( राजेश कुमार ) : पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में बुधवार को प्रखंड के पतनेश्वर मंदिर में विस्थापित की जिंदगी जी रहे कुमरतरी गांव के ब्रह्मदेव कोड़ा व मीना देवी  की बेटी नेहा की शादी की गई. मंदिर के पुजारी पंकज पांडे ने पूरे विधि-विधान के साथ नक्सल पीड़िता की शादी फुलवरिया कोड़ासी गांव के आनंद कोड़ा पिता स्वर्गीय मुन्ना कोड़ा के साथ  संपन्न कराया.

इस शादी को संपन्न कराने के लिए डीएम, एसपी, डीएफओ ने पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद की थी. पीड़ित परिजन ने बताया कि शादी समारोह में डीएम, एसपी, एसडीओ भी वर वधू को आशीर्वाद देने आने वाले थे. शायद व्यस्तता की वजह से नहीं आ पाए.

यहां बताते चलें की 2 वर्ष पूर्व 14 जुलाई 2017 को नक्सलियों ने कुमरतरी गांव के मीना देवी व उनके दो बेटे बजरंगी व शिवा कोड़ा की हत्या कुकुरझप डैम के पास कर दिया था. जबकि 3 मार्च 2018 को नक्सलियों ने पचेसरी हाई स्कूल पर धावा बोल रंजीत कोड़ा के भाई प्रमोद व मदन की हत्या कर दी थी.

उस समय से लेकर आज तक यह परिवार विस्थापित की जिंदगी जी रहा है. हालांकि जिला प्रशासन के अथक प्रयास से इस परिवार को फुलवरिया कोड़ासी गांव में शिफ्ट करा दिया गया है.

About परमबीर सिंह 33 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*