जमुई: भूमि विवाद में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या, गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू

जमुई, (राजेश कुमार) : जमुई से बड़ी खबर सामने आ रही है. जहां जमीन विवाद में एक व्यक्ति की गोली मार हत्या कर दी गई है. जानकारी के मुताबिक एक बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. इसी जमीन को जोतने गए शंकर यादव की हत्या हुई है. घटना जिले के सिकन्दरा थाना क्षेत्र के खेवसर गांव की है.

घटना पूर्व से ही जमीनी विवाद का बताया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक एक बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा है. वही विवादित जमीन पर मृतक शंकर यादव खेत की जुताई कर रहा था.  बताया जाता है कि इस जमीन को लेकर पूर्व में गोतिया के द्वारा मारपीट की गई थी. वही मृतक के पत्नी किरण देवी ने बताया कि होली में भी लड़ाई हुआ था और गोली बारी की गयी थी. जिसमें मृतक के चचेरे भाई अमरेश यादव को धारदार हथियार से वार कर घायल कर दिया गया था. उस दौरान दोनों पक्ष की ओर से सिकंदरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

सिकन्दरा थाना क्षेत्र के खेवसर गांव में जमीनी विवाद को लेकर चचेरे भाई ने शंकर यादव पिता स्व0 प्रयाग यादव की गोली मारकर हत्या कर दी. और उसकी पत्नी किरण देवी को भी उनलोगों ने पीटकर घायल कर दिया. घटना स्थल पर मौजूद मृतक शंकर यादव की पत्नी किरण देवी ने बताई की एक बीघा जमीन को लेकर टुनटुन यादव से विवाद चल रहा था.

टुनटुन यादव का कहना है कि उक्त जमीन मेरा है. जबकि वर्षों से उस जमीन की जुताई मेरे पति द्वारा किया जा रहा था. बुधवार की सुबह अपने पति के साथ खेत की जुताई करने गांव के बहियार गई थी, इसी दौरान टुनटुन यादव, जोगी यादव और सूरज यादव आया और खेत की जुताई करने से मना करते हुए मारपीट शुरू कर दी. पति शंकर यादव द्वारा छुड़ाने पर उनलोगों ने लगातार तीन गोली मारकर हत्या कर दी.

इधर हत्या की सूचना के बाद घटना स्थल पर दल-बल के साथ पहुंचे सिकन्दरा थानाध्यक्ष राजवर्धन कुमार द्वारा शव को कब्ज़ा में लेकर अंतपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल भेज दिया और घटना की छानबीन करते हुए आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी.

हालांकि, हत्या के बाद सभी आरोपित फरार हो गया. बताते चलें कि मृतक खेती कर आने परिवार का भ्रण-पोषण करता था मृतक को दो पुत्र और तीन पुत्री है. शंकर यादव की मौत के बाद परिजन में कोहराम मचा हुआ है. परिवार के साथ ग्रामीण भी दहशत में हैं.

About परमबीर राजपूत 47 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*