प्राइवेट कर्मी से लूटकांड मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन, तीन गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपी

जमुई, (राजेश कुमार) : बीते तीन जून को सरेआम हथियार के बल पर लाखों की लूट करने वाले गिरोह का उद्भेदन जमुई पुलिस ने कर लिया है. गिरोह के तीन लूटेरों को पुलिस ने जाल बिछा कर गिरफ्तार कर लिया है. जबकि चिन्हित अन्य चार की सरगर्मी से तलाश हो रही है. बताया जा रहा है कि सभी लूटेरे शहर से दस किलोमीटर क्षेत्र के विभिन्न गावों के हैं और लूट के लिए एक नया गिरोह तैयार कर लूट की इस बड़ी घटना को अंजाम दिया था.

लूटेरों की गिरफ्तारी के संबंध में बताया जा रहा है कि लूट की इस बड़ी घटना को अंजाम देने के बाद लूटेरे ने आपस में पैसों का बंटवारा कर लिया था और दना-दन खरीददारी में लीन थे. इन्हीं लूटेरों में एक शातिर विकास कुमार पासवान ने लूट के पैसों से एक सेकेंड हैंड चार पहिया वाहन खरीद लिया और उसे बनवाने के लिए धनबाद भेज दिया. पैसों के मोहताज विकास के चार पहिया खरीदने को लेकर उसके गांव में कानाफूंसी शुरू हो गई और बात थाने तक पहुंच गयी और वो पुलिस के रडार पर आ गया.

पुलिस कार्रवाई के बाद लूट कांड में शामिल तीन लूटेरों की गिरफ्तारी के बाद सोमवार को जमुई के पुलिस अधीक्षक जग्गुनाथ रेड्डी ने प्रेस को जानकारी देते हुए कहा कि बीते 3 जून को वी मार्ट से पैसा ले जा रहे एजेंट से लूट करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को एसआईटी टीम गठित कर हथियार एवं नकदी के साथ गिरफ्तार किया गया है. लूटकांड के गिरोह का सरगना बिट्टू यादव एवं उसके शागिर्द अजय यादव और विकास कुमार पासवान को गिरफ्तार किया है.

बरामद हथियार

उन्होंने बताया कि बदमाशों का यह नया गिरोह बना है. जिसने पहली घटना को अंजाम दिया है. तीनों गिरफ्तार बदमाश जमुई जिले के खैरा थाना क्षेत्र का निवासी है. गिरफ्तार अपराधी के पास से दो लोडेड देशी कट्टा, छह जिंदा कारतूस, दो मोटरसाइकिल, दो मोबाईल एवं लूट की राशि से रशीद के साथ खरीदा गया मोबाइल और नकदी में 40 हजार रूपया बरामद किया गया है.

जमुई में फायरिंग के बाद प्राइवेट कर्मी से दिनदहाड़े 10 लाख रुपए की लूट

About परमबीर सिंह 47 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*