जमुई : चिमनी से तीन मजदूरों का हुआ अपहरण, अभीतक नहीं मिला कोई सुराग

जमुई, (राजेश कुमार) : हत्या और अपराध से कराहते जमुई से एक बड़ी खबर है. खबर है कि चन्द्रमंडीह थाना क्षेत्र के घरवासन स्थित रूपा चिमनी भटठा से. जानकारी मिल रही है कि मंगलवार की देर रात हथियारबंद अपराधियों ने धावा बोलकर तीन मजदूरों का अपहरण कर लिया है. बताया जा रहा है कि अपराधियों ने तीनों मजदूरों को साथ लेकर पैदल ही पूरब दिशा की ओर चले गए. अपहरण के इस मामले में भटठा मालिक ने किसी प्रकार की लेवी मांगने की बात से इंकार किया है.

जानकारी के मुताबिक रात करीब साढ़े बारह बजे सभी मजदुर सो रहे थे, जबकि नाईट गार्ड नेपाल पासवान ड्यूटी पर था. इसी दौरान आठ की संख्या में पैदल आए अपराधी टार्च जलाकर मुख्य गेट के पास पहुंचे तो गार्ड ने आवाज लगाई. तभी अपराधियों ने हथियार के बल पर गार्ड नेपाल को अपने कब्जे में ले लिया. नेपाल ने शोर मचाने की कोशिश की तो भटठा पर सो रहे सभी मजदूर जाग गए और डर से भाग खड़े हुए.

लेकिन दो मजदूरों की नींद नहीं खुली. अपराधियों ने दोनों मजदूरों के साथ गार्ड नेपाल पासवान को लेकर वहां से पूरब दिशा की ओर निकल गए. दोनों अपहृत मजदुर झारखंड के देवघर जिला स्थित सोनारायठाढी थाना क्षेत्र के बसबुटीया गांव के बताए जा रहे हैं. अपहृत मजदूरों का नाम रविन्द्र पंडित और मनोज यादव बताया जा रहा है.

इधर अपराधियों के जाने के बाद अन्य मजदूरों ने घटना की सुचना देवघर में रह रहे चिमनी संचालक टुनटुन राय को दी. सुचना पाकर टुनटुन आधे घंटे बाद चिमनी पर पहुंचे और मामले की जानकारी एसपी और चन्द्रमंडीह पुलिस को दी. सूचना मिलते ही रात्रि गश्ती कर रहे अपर निरीक्षक नारायण ठाकुर फौरन घटनास्थल पहुंचे और मजदूरों से घटना की जानकारी ली.

बुधवार की अगले सुबह से ही पुलिस द्वारा मजदूरों की खोजबीन को लेकर छापेमारी की जा रही है. लेकिन अबतक उनका कुछ पता नहीं चल सका है. मजदूरों के अपहरण मामले में चंद्रमंडी थानाध्यक्ष खामस चौधरी ने बताया कि मजदुरों की बरामदी के लिए इलाके में छापेमारी की जा रही है. घटना को एक स्थानीय अपराधी गिरोह द्वारा अंजाम देने की बात सामने आ रही है. शीघ्र ही मजदूरों को बरामद कर लिया जाएगा.

बतातें चलें की गत वर्ष मार्च महीने में भी अज्ञात अपराधियों ने इसी भटठे पर बमबाजी की थी. जिससे इलाके में दहशत का माहौल पैदा हो गया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*