लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने महिलाओं को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. हेमंत सोरेन सरकार महिलाओं को सरकारी नौकरी में 50 फीसदी आरक्षण देगी. खुद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इसके संकेत दिए हैं. उन्होंने कहा कि यह महिला सशक्तिकरण की दिशा में सरकार का सशक्त कदम होगा. आगे होने वाले नियुक्तियों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने पर सरकार विचार कर रही है.

कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने सरकार की इस मंशा का स्वागत करते हुए कहा कि महिलाओं को आरक्षण मिलना चाहिए. यह महिलाओं का अधिकार है. महिलाओं का समाज में योगदान पुरुषों से ज्यादा होता है. ऐसे में उन्हें 50 प्रतिशत से भी ज्यादा आरक्षण मिलना चाहिए. पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में बेरोजगारी की समस्या ज्यादा है.

पूर्व मंत्री नीरा यादव ने किया तंज

हालांकि पूर्व मंत्री नीरा यादव ने झारखंड सरकार पर तंज करते हुए कहा कि जो सरकार महिलाओं के लिए एक रुपये में रजिस्ट्री की योजना को बंद करा सकती है, वह आरक्षण की बात कर महिलाओं का सिर्फ मजाक उड़ाना चाहती है. उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार को दुर्भावना के साथ काम नहीं करना चाहिए.

झारखंड में 75 हजार से ज्यादा पद हैं खाली

बता दें कि झारखंड सरकार के विभिन्न विभागों में 75 हजार से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारी के पद खाली हैं. हेमंत सरकार इन पदों पर जल्द नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने वाली है. इसके लिए जेपीएससी और जेएसएससी को तैयारी करने के निर्देश भी दिए गए हैं. सरकार का मानना है कि कर्मचारियों की कमी के चलते कामकाज प्रभावित हो रहे हैं. सरकार पर्यटन के क्षेत्र में 50 हजार रोजगार का सृजन करने में जुटी है.

रांची : विधायक ढुल्लू महतो को झारखंड हाईकोर्ट से राहत, रद्द हुआ गिरफ्तारी का वारंट