लाइन सिटीज, सेंट्रल डेस्क: चारा घोटाला में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव इन दिनों रांची रिम्स हॉस्पिटल में इलाजरत हैं. शनिवार को लालू यादव से मुलाकात का दिन होता है. इसी बीच जदयू के विधानपार्षद इकबाल अंसारी ने आज रांची के रिम्स अस्पताल में इलाजरत राजद सुप्रीमो लालू यादव से मुलाकात की और बड़ा बयान दिया.

मुलाकात के बाद इकबाल अंसारी ने कहा कि जदयू में रहने के बाद भी मुझे लालू प्रसाद और राबड़ी देवी का आशीर्वाद मिलता रहा हैं. लालू परिवार से मेरा पुराना रिश्ता रहा हैं. इसलिए उनका आशीर्वाद मेरे लिए जरूरी है. लालू प्रसाद की तबीयत को लेकर उनको चिंता हो रही थी. इसलिए वह लालू से मिलने के लिए आए हैं.

उन्होंने लालू यादव के बारे में कहा कि वह काफी कमजोर हो चुके हैं उन्हें और बेहतर इलाज की जरूरत है. बिहार की राजनीति पर लालू प्रसाद से हुए बातचीत के बारे में कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में युवा नेतृत्व की आवश्यकता है. बिहार की जनता बदलाव चाहती है.

साथ ही उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार अच्छे नेता थे, अब क्या हैं मीडिया जानती है. उन्होंने बताया कि लालू प्रसाद यादव ने उन्हें तीन बार टिकट देकर विधायक बनाया था, और उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन का श्रेय लालू प्रसाद को देते हुए कहा कि आज मैं जो भी हूं उन्हीं की बदौलत हूं. जावेद अंसारी ने राबड़ी देवी से भी बेहतर संबंधों का हवाला दिया.

इकबाल अंसारी ने कहा कि मैं लालू यादव का शिष्य हूं और लालू यादव मेरे राजनीतिक जन्मदाता हैं. ऐसे में उनके स्वास्थ्य का हालचाल जानने के लिए ही मैं उनसे मिलने आया था. उनसे मुलाकात हो गई. बता दें कि सीएए, एनआरसी को लेकर जदयू के अंदर नाराजगी जारी है. इकबाल अंसारी ने भी इन मुद्दों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. ऐसे में उनकी लालू से हुई मुलाकात को अहम बताया जा रहा है.