शतरंज चैंपियनशिप टूर्नामेंट का हुआ आगाज

खगड़िया: शहर के गौशाला रोड स्थित आस्था कंपलेक्स में जिला शतरंज संघ के तत्वावधान में अंडर-14 बालक-बालिका एवं सीनियर वर्गों के जिला शतरंज चैंपियनशिप आरंभ हुआ. इसका उद्घाटन वरीय रेल चिकित्सक डॉ विकास कुमार ने टूर्नामेंट की सबसे छोटी खिलाड़ी परिणीता के साथ शतरंज की चाल चल कर किया. इस अवसर पर शतरंज के खेल को बढ़ावा एवं खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन के लिए टूर्नामेंट के प्रायोजक कोशी साइंस क्लासेज के संचालक सह शिक्षक नेता मनीष कुमार सिंह ने प्रतियोगिता में भाग ले रहे सभी वर्गों के प्रतिभागियों के लिए पुरस्कार की घोषणा की.

इस अवसर पर स्वराज अभियान के जिलाध्यक्ष विजय कुमार सिंह ने खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि शतरंज के खेल में जिले के खिलाड़ी ऊंचाई पर पहुंचे और जिला कार्यक्रम नाम रौशन करें. वहीं जिला शिक्षा स्वराज के संयोजक संजय कुमार गुप्ता ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि खेल से मानव के शारीरिक और मानसिक विकास में होता है. मौके पर जिला शतरंज संघ के उपाध्यक्ष प्रद्युम्न कुमार सिंह ने शतरंज के गौरवशाली इतिहास, इसके नियमों एवं अनुशासन के बारे में खिलाड़ियों को विस्तार से जानकारी दी. जिला शतरंज संघ के उपाध्यक्ष नवीन गोयनका ने जिला शतरंज संघ व खिलाड़ियों को राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान कायम करने के लिए बधाई देते हुए कहा कि हमारे खिलाड़ी आगे इस क्रम को बनाए रखने में सफल हो, यही हमारी शुभकामनाएं है.

जबकि जिला शतरंज संघ के कोषाध्यक्ष सह इम्प्स प्ले स्कूल के संचालक अमरजीत कुमार सिंह ने शतरंज के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए खिलाड़ियों एवं अभिभावकों को आगे आने का आह्वान किया. कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए जिला शतरंज संघ के उपाध्यक्ष प्रद्युम्न कुमार सिंह ने मुख्य अतिथि, प्रायोजक, सभी पदाधिकारियों, खिलाड़ियों एवं अभिभावकों के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया. इस अवसर पर नशा मुक्त भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रेम कुमार यशवंत, जिला शतरंज संघ के संयुक्त सचिव मदन मोहन सिंह, चन्दन कुमार, उदयशंकर, सन्नी हिमवान, पुष्पा कुमारी सहित सैकड़ों शतरंज प्रेमी उपस्थित थे. इस अवसर पर प्रतियोगिता के उद्घाटन कार्यक्रम का संचालन करते हुए जिला शतरंज संघ के सचिव सह उपाध्यक्ष ऑल बिहार शतरंज संघ बिप्लव रंधीर ने बताया कि इस प्रतियोगिता में सभी वर्गों के कुल 70 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं, जो किसी भी जिलास्तरीय शतरंज प्रतियोगिता के लिए एक बड़ी उपलब्धि है.

बिप्लव रंधीर ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि इस प्रतियोगिता में सभी वर्गों के शीर्ष चार प्रतिभागियों को राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में खेलने का मौका दिया जाएगा. प्रतियोगिता के सभी वर्गों में पांच चरण का मैच होगा. दूसरी तरफ प्रतियोगिता के निर्णायक राजकुमार ने पहले दिन खेले गए प्रथम चक्र के परिणामों की घोषणा करते हुए बताया कि अंडर 14 बालिका वर्ग में संध्या सुमन, कल्याणी, अपूर्वा रानी और तनु अपने-अपने मैच जीतकर एक-एक अंकों के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*