ABVP ने शिक्षा मंत्री का फूंका पुतला

खगड़िया : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को परिषद के नगर मंत्री कुमार शानू की अध्यक्षता में इंटर परीक्षा परिणाम में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए में सूबे के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी का पुतला दहन किया.

मौके पर काॅपी के सही तरीके से पुनः मूल्यांकन की मांग भी की गई. इसके पूर्व अभाविप के कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शहर के राजेंद्र चौक पर पहुंचे.जहां एक सभा का भी आयोजन किया गया. जिसकी अध्यक्षता परिषद के नगर मंत्री ने किया. मौके पर उन्होंने अपने संबोधन में कहा 12वीं के खराब रिजल्ट के लिए बिहार की सरकार जिम्मेदार है. क्योंकि इंटर परीक्षा की काॅपी प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों के द्वारा जांच कराई गई है.जिस पर हाईकोर्ट ने भी संज्ञान में लिया था.बाबजूद इसके शिक्षा मंत्री ने प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों से काॅपी की जाॅच करवा छात्रों के रिजल्ट का बुरा हाल कर दिया है. वहीं परिषद के सह मंत्री राजीव गुप्ता तथा कृष्णकांत पोद्दार ने कहा कि बिहार के शिक्षा व्यवस्था को गर्त में ले जाना भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सात निश्चयों में से एक प्रतित होता है.क्योंकि किसी भी बोर्ड की परीक्षा में इतनी बड़ी संख्या में परीक्षार्थी फेल नहीं हो सकता है.

साथ ही उन्होंने कहा कि मार्क्स कम आ सकते हैं लेकिन 62 फीसदी परीक्षार्थियों का फेल कर जाना मूल्यांकन कार्य में कोताही प्रतित होती है.जबकि रौशन एवं आयूष ने अपने संबोधन में कहा कि वित्त रहित शिक्षकों के हड़ताल पर होने की वजह से ऐसे शिक्षक कॉपी मूल्‍यांकन कार्य में शामिल नहीं हुए. जिस मामले को लेकर राज्‍य सरकार ने 776 शिक्षकों के ऊपर प्राथमिकी भी दर्ज करवाई थी.दूसरी तरफ इंटर की 79 लाख कॉपियों की जांच के लिए 29512 शिक्षकों को ज़िम्मेदारी सौंपी गई थी.लेकिन इसमें से महज 2000 शिक्षक ही कॉपियों के मूल्यांकन कार्य में भाग लिया.ऐसे में परिणाम तो कुछ ऐसा आना ही आना था.कार्यक्रम में अभाविप के दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थें.