इंटर की कॉपी के पुनर्मूल्यांकन की मांग को लेकर AISF ने किया सड़क जाम

खगड़िया : ऑल इण्डिया स्टूडेन्ट्स फेडरेशन द्वारा आहूत इंटर परीक्षा के नतीजे में हुई गड़बड़ी के खिलाफ एवं कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन की मांग को लेकर राज्यव्यापी चक्का जाम कार्यक्रम के तहत सोमवार को संघ के जिला परिषद द्वारा बलुआही के समीप करीब दो घंटे तक एनएच-31 को जाम रखा.
जिससे इस मार्ग पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई. इस बीच मामले की सूचना मिलते ही सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी दल-बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचे और छात्र नेताओं से जाम हटाने की अपील की. वहीं आक्रोशित छात्रों ने मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते रहे. मौके पर एआईएसएफ के जिला सचिव रजनीकांत ने अपने संबोधन में कहा कि छात्र संगठन लगातार आंदोलन के माध्यम से सरकार से मांग कर रही है कि कॉपी का पुनः मूल्यांकन कराया जाए. यदि सरकार द्वारा संघ के मांगों के संदर्भ में पहल नहीं की जाती है तो देश भर में रेल का चक्का जाम किया जायेगा. वहीं जिलाध्यक्ष अभिषेक कुमार ने कहा कि सरकार एवं बोर्ड की लापरवाही से बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर लगातार प्रश्न चिन्ह खड़ा हो रहा है. दूसरे प्रदेशों में बिहारी छात्रों को अब हीन व संदेह की नजर से देखा जाने लगा है. मौके पर संगठन के जिला परिषद उपाध्यक्ष मिथुन कुमार ने कम्पार्टमेंटल परीक्षा में दो की जगह तीन विषय का अवसर देने की भी मांग रखी जबकि संघ के छात्र नेता सोनू ने सूबे के आठ लाख छात्रों के भविष्य से सरकार को खिलवाड नहीं करने देने की बात कही. मौके पर संघ के राज्य परिषद सदस्य मीनू यादव, लक्ष्मण कुमार, अमर कुमार, गौरव कुमार, गुलशन, केशव, भीम, मुकेश, संजीव सहित सैकड़ों की संख्या में छात्र उपस्थित थे.