खगड़िया : मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर जदयू कार्यकर्ताओं में संशय

खगड़िया : वैसे तो जदयू के स्थानीय नेताओं व कार्यकर्ताओं की हलचल सहित जिला प्रशासन की मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को लेकर चल रही तैयारियों को देखकर ऐसा माना जा रहा है कि 18 मार्च को उनका जिले के चौथम प्रखंड के सोनवर्षा घाट का प्रोग्राम निश्चित है. इस बीच सीएम प्रोग्राम को लेकर राजग की रविवार को आयोजित एक बैठक ने एक नई चर्चाओं को जन्म दे दिया कि मुख्यमंत्री का कार्यक्रम निश्चय है या संभावित. दरअसल मुख्यमंत्री के चर्चित यात्रा के मद्देनजर रविवार को जिले के चौथम प्रखंड के मध्य बोरने पंचायत के कैथी गांव में राजग की एक बैठक बुलाई गई थी.

इस बैठक में बेलदौर के जदयू विधायक पन्नालाल सिंह पटेल सहित लोजपा के जिलाध्यक्ष मोहम्मद मासूम, जदयू के जिला प्रवक्ता अरबिन्द मोहन, जिला महासचिव बबलू मंडल, उद्योग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष बिक्रम यादव, युवा जदयू के अध्यक्ष प्रवीण चौरसिया, चौथम प्रखंड जदयू के खड़क कुमार विजय मौजूद थे. वहीं भाजपा के कई प्रखंड स्तरीय नेताओं सहित राजेश सिंह, पूर्वी बोरने के पंचायत समिति सदस्य गोपाल सिंह, बुलबुल झा, बैद्यनाथ सिंह आदि भी उपस्थित थे.

मिली जानकारी के अनुसार मौके पर अपने संबोधन में बेलदौर के जदयू विधायक पन्नालाल लाल सिंह पटेल ने मुख्यमंत्री का जिले में 18 मार्च के कार्यक्रम को निश्चित बताया. वहीं कुछ जिलास्तरीय नेताओं ने इस दौरा को संभावित करार दिया. बताया जाता है कि निश्चय व संभावित के बीच कुछ देर के लिए वहां विरोधावास की स्थिति भी उभर आई. साथ ही मौके पर जिला जदयू के आंतरिक मतभेद फिर से सामने आ जाने की भी जानकारी मिली है.

देखिए वीडियो : पटना में कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने किसानों पर बड़ी बात कही है…

सूत्रों पर यदि विश्वास करें तो जिलास्तरीय कई नेताओं का नाम संबोधन सूची में रहने के बाद भी उन्हें संबोधन का मौका ही नहीं दिया गया. बहरहाल मुख्यमंत्री का जिले में कार्यक्रम की चर्चाओं के बीच जदयू की तैयारियों व पार्टी की आंतरिक गुटबाजी चरम पर है. साथ ही ‘अपनी ढफली’ पर ‘अपना राग’ सुना एक अंजाने राह पर राजनीतिक दौड़ में आगे निकलने का सिलसिला भी जारी है.