…और अब राज्यस्तरीय टीम में खगड़िया की बेटी लगायेगी छक्का-चौका

khagaria
क्रिकेट

खगड़िया : कहा जाता है कि प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती और वो सीमित संसाधनों व तमाम विपरित परिस्थितियों के बावजूद एक ना एक दिन निखर कर सामने आ ही जाता है. इस बात को एक बार फिर अक्षरत: सच साबित किया है जिले के परबत्ता प्रखंड अंतर्गत कवेला पंचायत के डुमरिया खुर्द की बेटी अपराजिता कश्यप ने. राजेश कुमार राय की पुत्री अपराजिता बिहार राज्य स्तरीय बालिका क्रिकेट के अंडर -19 टीम में अपनी जगह बनाने में कामयाब रही है.

कला संस्कृति युवा विभाग बिहार एवं जिला प्रशासन के तत्वावधान में चल रहे प्रशिक्षण शिविर में उसने अपने कोच अबु बकर के मार्गदर्शन में 20 नवम्बर को नवादा में ट्रायल पास कर लिया है. जिसमें बिहार के कई जिलों के खिलाड़ियों ने भाग लिया था और वहीं 20 सदस्यीय टीम का गठन किया गया. जिसमें अपराजिता का नाम भी शामिल है. चयनित खिलाड़ियों का पटना में दस दिवसीय कैम्प लगाकर बिहार अंडर -19 बालिका क्रिकेट टीम के लिए 16 सदस्यीय टीम का गठन होना है. जिसमें खिलाड़ियों का चयन शारीरिक फिटनेस के साथ साथ क्रिकेट के कई  महत्वपूर्ण बिंदुओं के आधार पर किया जाना है. ऐसे में माना जा रहा है कि अब अपराजिता के चयन में महज औपचारिकता मात्र शेष रह गया है.

अपराजिता कश्यप इसी वर्ष परबत्ता से दसवीं पास करने के उपरांत बेगूसराय में इंटर विज्ञान की पढ़ाई कर रही है. बताया जाता है कि उनकी पढ़ाई के साथ-साथ क्रिकेट में शुरू से ही काफी रूची रही है. बेगूसराय के रिफाइनरी टाउनशिप में प्रशिक्षण के बाद उसका चयन जिलास्तरीय टीम में हुआ था. क्रिकेट के प्रति अपनी लगाव के संदर्भ में अपराजिता कश्यप ने बताया कि बचपन से ही उनके पिताजी एवं भाई कुणाल कश्यप क्रिकेट खेल के प्रति प्रेरित किया करते रहे है. साथ ही उच्च विद्यालय के शिक्षक रंजन श्रीवास्तव भी लगातार उनका हौसला बढ़ाने का काम किया. दाएं हाथ से बल्लेबाजी व ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने वाली अपराजिता भारतीय टीम के महेन्द्र सिंह धोनी को अपना आदर्श मानती है.

बहरहाल अपनी बेटी की उपलब्धि पर उनकी मां लक्ष्मी देवी फूली नहीं समा रही है. वहीं उनकी चाहत अपराजिता को टीवी स्क्रिन पर चौके व छक्के जमाते हुए देखने की है. दूसरी तरफ कभी वॉलीबॉल का गढ रहे डुमड़िया खुर्द के ग्रामीणों के बीच भी हर्ष का माहौल है.

कवेला पंचायत के मुखिया बालकृष्ण शर्मा उर्फ ललन शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार शिव कुमार राय, विजय कुमार राय, सत्यनारायण राय, शिक्षक शिव चन्द्र राय, सुदर्शन राय, मानवेन्द्र मनु, रवीन्द्र झा, डाक्टर अविनाश कुमार, डाक्टर पुष्पा देवी, संजय राय, शिक्षिका शिवांगी, पाटलीपुत्रा सेंटर स्कूल के प्राचार्य जे.पी. सिंह, आदि ने अपराजिता की उपलब्धि पर गौरवान्वित महसूस करने की बातें कहते हुए उनके क्रिकेट के क्षेत्र में नई उंचाईयों को छूने की मंगलकामना व्यक्त की है.