लालू ने मांगा भुट्टा, लेकिन नहीं हो सका इंतजाम

खगड़िया : राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का काफिला भागलपुर से पटना लौटने के क्रम में जिले के सैनिक लाइन होटल में करीब आधा घंटा रूका. यहां स्थानीय कार्यकर्ताओं ने उनके लिए भोजन का इंतजाम कर ऱखा था. हालांकि उन्हें वहां उनका मनपसंद भोजन रोटी व साग उपलब्ध नहीं हो सका. सूत्रों की मानें तो राजद सुप्रीमो ने भुट्टा खाने की भी इच्छा जाहिर की थी. लेकिन वक्त की कमी के कारण उन्हें उपलब्ध मटर-पनीर की सब्जी व रोटी खाकर ही वहां से निकलना पड़ा.

मौके पर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव, पूर्व मंत्री जय प्रकाश नारायण यादव, युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष मो.कारी सोहेब सहित पार्टी के कई वरीय पदाधिकारी मौजूद थे. हालांकि इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की गाड़ी वहां से आगे निकल चुकी थी. इसके पूर्व एनएच—31 के परमानंदपुर ढाला के पास उनका काफिला थोड़ी देर के लिए रूका. यहां उन्होंने शनिवार को भागलपुर की रैली के दौरान घायल हुए युवा राजद के प्रदेश महासचिव चंदन यादव से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली. राजद प्रदेश महासचिव की मानें तो भागलपुर में राजद की रैली में उन्हें पुलिसिया जुल्म का शिकार होना पड़ा. उनकी हाथ में गहरा जख्म हो गया था.

दोषी पुलिसकर्मी पर कार्रवाई किये जाने का आश्वासन राजद सुप्रीमो ने दिया. इस दौरान राजद सुप्रीमो ने सृजन के दुर्जनों को वर्ष 2019 के चुनाव में खत्म करने की अपील जिलेवासियों से किया. यात्रा के क्रम में राजद सुप्रीमो का जिले में रूकने से स्थानीय राजद नेता व कार्यकर्ता काफी उत्साहित दिखे. लेकिन उन्हें इस बात का मलाल भी रहा कि एशिया में मक्के के उत्पादन में अपना एक अलग स्थान रखने वाला जिला खगड़िया में राजद सुप्रीमो के लिए तुरंत भुट्टा का इंतजाम नहीं हो सका.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*