दक्षिणपंथ की ओर जा रहा है देश : सत्यनारायण

खगड़िया : केन्द्र की राजग सरकार देश को दक्षिणपंथ की ओर ले जानें की पुरजोर कोशिश कर रही है. अपने ढाई साल के कार्यकाल की नाकामी को छिपाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिटलरशाही नीति अपनाते हुए समय-समय पर कुछ ऐसी घोषणा कर देते हैं जिससे आमलोगों को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.

सरकार द्वारा 1000 और 500 के पुराने नोट को एकाएक बंद किए जाने से आम लोगों के साथ बिहार के किसान ही नहीं बल्कि पूरा देश परेशान हुआ है. कहनें के लिए तो यह कदम कालाधन पर शिकंजा कसने को है लेकिन यह इकॉनोमीक स्ट्राइक है. उक्त बातें सी.पी.आई. के राज्य सचिव सह पूर्व विधायक सत्यनारायण सिंह ने बुधवार को पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक में कहीं. साथ ही उन्होंने बिहार सरकार को भी अारे हाथों लेते हुए कहा कि नीतीश कुमार शराबबंदी का ढोल घूम-घूमकर पीट रहे हैं और राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है.

केंद्र और बिहार की सरकार दोनों फेल हो चुकीं है. अपनी कमियों को छुपाने के लिए दोनों अलग-अलग हथकंडा अपना रहे हैं. बैठक की अध्यक्षता पार्टी के राज्य परिषद सदस्य बिपिन चंद्र मिश्र ने की. वहीं बैठक में बिहार राज्य परिषद के फरवरी माह में होने वाली संगठन-सम्मेलन पर भी विस्तार से चर्चा हुई. इस सम्मेलन के अवसर पर रैली एवं आमसभा करने का फैसला सर्वसम्मति से लिया गया.संगठन के राज्य कार्यकारणी सदस्य प्रभाशंकर सिंह, जिला मंत्री प्रभाकर प्रसाद सिंह ने भी बैठक में अपने विचारों को रखा. वही मौके पर पुनीत मुखिया, रविंद्र यादव, गणेश शर्मा, अनिल कुमार सिंह,कैलाश पासवान,सुरेश सिंह आदि उपस्थित थें.

khag4