राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा को युवाओं का मिल रहा भरपूर समर्थन : रोहित सिंह रैकवार

रोहित सिंह रैकवार

मुंगेर,(सुनील जख्मी): ई. रविन्द्र कुमार सिंह के नेतृत्‍व में आयोजित राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा के चौथे चरण में यात्रा गुरुवार को मुंगेर पहुंचा. जहां यात्रा का स्वागत किया गया. गुरुवार को यात्रा जिले के पहाड़पुर से शुरू होकर, बहिरा, अग्रहन, मझगायें, लक्ष्मीपुर, केंदुआ(विशनपुर), खंडबिहारी, प्रसन्डो, बनहरा, धरहरा होते हुए बिंदवारा में सभा एवं सघन जनसंपर्क के साथ समाप्त हुई. इस दौरान विभिन्न जगहों पर सभा एवं जनसंपर्क के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए ई. रविन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि देश में समान शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य की व्‍यवस्‍था की मांग इस यात्रा का प्रमुख उद्देश्‍य है. जिसको लेकर हम जनजागृति पैदा करने के लिए लोगों के बीच जा रहे हैं. सामाजिक उत्‍थान के लिए आज बिहार में एक जैसी शिक्षा नीति की आवश्‍यकता बेहद है. साथ ही हम चाहते हैं कि प्रदेश के सभी प्रखंड स्‍तर पर आधुनिक सुविधा से लैस अस्‍पताल की स्‍थापना हो.

सिंह ने हाल ही में मोदी सरकार द्वारा चलाए गए आयुष्मान योजना को जन विरोधी बताते हुए कहा कि इससे न सवर्णों का भला होगा और न देश के अन्य कमजोर लोगों का. क्योंकि इस योजना के तहत लाभ भी अपोलो और पारस जैसे अस्पतालों को मिलेगा. जहां गरीब या मध्यम वर्ग के लोग इलाज कराने में सक्षम नहीं होंगे. इसलिए हमारी मांग है कि सरकार द्वारा कोई भी स्वास्थ्य संबंधित योजना प्रखंड या पंचायत स्तर पर चलाई जाए. जिसका लाभ देश के सभी तबके के लोगों को मिल सकेगा.

एक समान शिक्षा के साथ – साथ एक नागरिकता और एक कानून की बात पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि कहा कि भारतीय संविधान की मूल अवधारणा अवसर की समानता और समान न्‍याय का अधिकार है. इसलिए हम चाहते हैं कि केंद्र सरकार माननीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय के एससी-एसटी पर दिये फैसले को लागू किया जाये. हमारी मांग ये भी है कि किसानों के लिए हर प्रखंड में बाजार खोले जायें और किसानी पेशे को उद्योग का दर्जा दिया जाय. इन्‍हीं सब मांगों को लेकर हम प्रदेश के युवाओं और अन्‍य लोगों को जागरूक कर रहे हैं तथा किसानों के फसलों का सम्मानजनक बाजार मूल्य निर्धारित करने सहित अन्य मांगों के समर्थन में रैली का आयोजन किया जा रहा है.

आर्थिक आधार पर आरक्षण बहाल करने की वकालत करते हुए सिंह ने नेताओं पर पर जमकर हमला बोला. उन्‍होंने कहा कि जात- पात की राजनीति करने वाले नेताओं ने देश के विकास को अवरूद्ध किया है. ऐसे लोग आज सभी दलों में भरे हैं, जो देश में पिछड़े लोगों को सर्वर्णों के खिलाफ भड़काते हैं और वोट लेते हैं. इसके बावजूद भी आज पिछड़ापन भारत की समस्‍या बनी हुई. सभी पार्टियां कहती है कि हम जात-पात की राजनीति नही करते हैं, फिर दलित, महादलित, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ बना के क्यों रखी है? और सवर्ण प्रकोष्ठ क्यों नही? हम इस यात्रा के जरिये देश को एक सूत्र में बांधना चाहते हैं.

रोहित सिंह रैकवार ने कहा कि राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा एक व्यापक सोच़ है. हम वल्लभ भाई पटेल के विचारों को बड़ा बनाये. सरदार पटेल की एक व्यापक सोच़ ही थी, जिसके कारण 562 रियासतें एक साथ भारत को एक बनाने का काम किया. सभी रियासतों ने ही मिलकर भारत के संचालन के लिए आर्थिक मदद कर एक मजबूत स्तंभ तैयार किया. देश में शिक्षा का स्तर नगन्य हो चुका था, वहीं स्वास्थ्य सेवा ध्वस्त को जीवनदायिनी बनाने के लिए भारत एवं राज्यों की सरकारों को सवर्णों ने जमीन देकर प्रत्येक भारतीयों के लिए समानता की नींव रखी. जाति-धर्म से उपर उठकर सभी के लिए मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था कर सर्वांगीण विकास किया. मगर आजादी के सात दशक बाद भी सावर्णो के कल्याण के लिए किसी भी सरकार ने कोई कारगर कदम नहीं उठाया.

उन्‍होंने कहा कि एकबार फिर से राष्ट्र पर राजनैतिक खतरें मंडरा रहा है. सवर्णो द्वारा स्थापित किया गया विद्यालय, स्वास्थ्य सेवा, उद्योग, बाजार समितियों, किसानों के जीवन को जीवनदायिनी बनाने के लिए 25 फरवरी 2019 को गांधी मैदान पटना में आयोजित महारैली में अपना महत्वपूर्ण योगदान एकबार फिर दे.

उन्‍होंने कहा कि गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्‍टूबर से गांधी संग्राहलय चंपारण से शुरू हुई राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा का तीनों चरण पूर्ण होने के बाद चौथे चरण में यात्रा सीतामढ़ी, सिवान, जमुई होते हुए मुंगेर पहुंची है. इस दौरान यात्रा को लोगों का भारी समर्थन मिला. इस यात्रा का अंतिम चरण राजगीर से पटना तक होगी. जिसके बाद 25 फरवरी को पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में एक विशाल जनसभा का आयोजन किया जायेगा. अभी तक की ‘राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा’ के तीनो चरणों का सफ़र बहुत ही शानदार और जानदार रहा.

इस मौके पर रोहित सिंह रैकवार, कुन्दन सिंह, धनंजय सिंह, पंकज सिंह, प्रो.सीतारमण सिंह, शिवशंकर प्रसाद सिंह, दिलीप सिंह, सौरव सागर के साथ सैकड़ो लोग मौजूद थे.

About परमबीर सिंह 7 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*