नवादा : विद्यार्थी परिषद के खुले अधिवेशन में राष्ट्रीय नीति पर चर्चा

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा) : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 59वें राज्य अधिवेशन में कार्यक्रम के तीसरे दिन नवादा रेलवे स्टेशन के समीप खुला अधिवेशन आयोजित किया गया. खुले अधिवेशन में छात्र-छात्राओं के बीच राष्ट्रीय नीति पर चर्चा की गई तथा कहा गया कि देशहित से बढ़कर कोई भी नहीं है. खुले अधिवेशन में प्रांतीय अध्यक्ष के साथ-साथ उप संयोजक डॉ कुमार मोती प्रसाद ने कहा कि छात्र शक्ति ही राष्ट्र शक्ति है. देश की माटी हम किसी भी कीमत पर बांटने नहीं देंगे. चाहे कश्मीर की बात हो या कन्याकुमारी. हर जगह विद्यार्थी परिषद के सदस्य सभी जगह खड़े मिलेंगे.

विद्यार्थी परिषद के कार्यक्रम संयोजक डॉक्टर सुजय कुमार ने कहा कि विद्यार्थी परिषद हमेशा से ही छात्र हित की बात करते आया है और आगे भी छात्र हित की बात के साथ साथ राष्ट्र हित की बात करेगा. इससे पूर्व विद्यार्थी परिषद के राज्य अधिवेशन में बिहार के सभी जिलों से आए प्रतिनिधियों ने शहर में मार्च किया. गांधी स्कूल से निकल कर विद्यार्थी परिषद का कारवां भगत सिंह चौक होते हुए प्रजातंत्र चौक, पुरानी बाजार, खुरी नदी नई पुल से पार नवादा गया रोड होते हुए पूरी नदी पुरानी पुल के मार्ग से सुनार पट्टी गोला रोड से अस्पताल रोड होते हुए स्टेशन परिसर पहुंचकर खुला अधिवेशन में संपन्न हो गई.

छात्र-छात्राओं के द्वारा देश भक्ति भरा नारा लोगों को काफी आकर्षित कर रहा था. नवादा हो या गुवाहाटी अपना देश अपना माटी. 1234 नवादा वासी को नमस्कार. देश हित की बात छात्र हित की बात. छात्र शक्ति राष्ट्र शक्ति. कौन चला भाई कौन चला भारत मां का लाल चला जैसे अनेकों स्लोगन के साथ छात्र छात्राएं अपना प्रदर्शन दिखा रहे थे. प्रदर्शन को लेकर प्रशासन के द्वारा सुरक्षा की व्यवस्था की गई थी. सदर एसडीओ राजेश कुमार, एसडीपीओ विजय कुमार झा, टाउन इंस्पेक्टर अंजनी कुमार और अंचलाधिकारी के साथ साथ crpf की टीम भी साथ-साथ चल रही थी.

जगह-जगह पर सरस्वती शिशु मंदिर, भारत विकास परिषद जैसे अनेक संगठनों द्वारा छात्र कारवां पर फूल बरसाए जा रहे थे. पूरे रास्ते फूल से पवित्र हो गए. प्रजातंत्र चौक पर हिसुआ विधायक अनिल सिंह भी कार्यकर्ताओं पर फूल बरसाते देखे गए. भारत विकास परिषद की ओर से छात्र छात्राओं के बीच टॉफी और मिनरल वाटर बांटे गए. विद्यार्थी परिषद के इस कार्यक्रम में लोगों का जो जुनून देखते ही बना. प्रशासन के द्वारा सड़कों पर यातायात व्यवस्था को कुछ देर के लिए रोक दिया गया था. परिषद का तीसरे दिन का खुला अधिवेशन रेलवे स्टेशन के मैदान में हुआ.

इसके बाद देर रात सांस्कृतिक संध्या का भी आयोजन गांधी इंटर विद्यालय के अधिवेशन परिसर में किया गया. परिषद के छात्र रैली के दौरान अंजनी कुमार पांडे, प्रोफेसर सुनील कुमार, नवीन केसरी, संजय कुमार मुन्ना, अंकित शाही, अमित कुमार छोटी, गोपीकिशन सहित अनेक पूर्ववर्ती छात्र-छात्राएं भी मौजूद रहे.

30 दिसंबर को नवादा आयेंगे सीएम, बदल रही है मंगूरा गांव की तस्वीर

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*