नवादा : पीट-पीटकर हुई हत्या के पीड़ित परिजनों से मिले सांसद प्रतिनिधि

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा) : मंगलवार को कौवाकोल थाना क्षेत्र के पनसगवा ग्राम में एक दलित परिवार के सदस्य मुंद्रिका मांझी की पीट-पीटकर हुई हत्या के मामले में पीड़ित परिजनों से नवादा के सांसद गिरिराज सिंह के प्रतिनिधि बिट्टू शर्मा, बजरंग दल के जिला संयोजक जितेंद्र प्रताप जीतू व विश्व हिंदू परिषद के कैलाश विश्वकर्मा मिलने पहुंचे.

कैलाश विश्वकर्मा, जितेंद्र प्रताप जीतू और बिट्टू शर्मा ने बताया कि मुंद्रिका मांझी से शराब बनाने की जिद करने वाले आरोपी उपेंद्र यादव गुस्से में आकर मांझी की जमकर पिटाई कर दी. मुंद्रिका मांझी ने शराब बनाने से इनकार किया था. उन्होंने बताया कि आरोपी जदयू का पंचायत अध्यक्ष बताया जाता है.

गौरतलब है कि पिछले 1 सप्ताह पूर्व वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के अफसढ़ में दबंगों ने टालो मांझी की हत्या पीट-पीट कर दी थी. नवादा जिले में महादलित परिवारों पर तेजी से हो रहे हमले कुछ अलग संकेत दे रहा है. दलितों की पिटाई और उसके बाद मौत के मामले में राजनीतिक धीरे धीरे पकड़ने लगा है. नवादा जिला मुख्यालय से सटे मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सोनसिहारी ग्राम में भी दलित परिवार के साथ एक संप्रदाय विशेष के लोगों ने महिलाओं के साथ छेड़खानी और पुरुषों के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया था. इस तरह की घटना बढ़ने से दलित परिवारों में रोष देखा जा रहा है.

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी मंगलवार को ही अफसढ़ के पीड़ित महादलित परिवारों से जाकर भेंट मुलाकात की और कुशल क्षेम पूछा. जबकि आज ही हुए कौआकोल की घटना में विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने कौवाकोल के पसगवां और सोनसिहारी गांव जाना उचित नहीं समझा. सांसद प्रतिनिधि बिट्टू शर्मा ने कहां के ऐसे मामलों के लिए सरकार दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. अफसढ़ के आरोपी धारो सिंह की गिरफ्तारी हो चुकी है. जबकि सोनसिहारी और पनसगवा कांड के आरोपी अभी भी पुलिस पकड़ से बाहर हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*