उच्च अधिकारियों के आदेशों की अवहेलना

नवादा (रवीन्द्र नाथ भैया) : जिले के शिक्षा विभाग का अपना नियम-कानून है. उच्च अधिकारियों के आदेश को भी ताक पर रख दिया जा रहा है. स्थानीय अधिकारी अपनी मनमर्जी के हिसाब से कार्य निष्पादन में जुटे हैं. मामला मध्याह्न भोजन योजना के तहत स्कूलों में थाली की खरीदारी से जुड़ा है.

बता दें कि एमडीएम के राज्य निदेशक हरिहर प्रसाद ने 22 दिसंबर 2016 को पत्र भेजकर 15 जनवरी 2017 तक थाली की खरीदारी करने का निर्देश दिया था. पत्र में कहा गया है कि सभी प्रखंडों में 15 जनवरी तक शत-प्रतिशत थाली क्रय कराना सुनिश्चित किया जाए. पत्र में स्पष्ट हिदायत दी गई है कि शत-प्रतिशत थाली की खरीदारी नहीं करने वाले प्रखंडों के प्रखंड साधन सेवी को चिन्हित करते हुए उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई की जाए. लेकिन स्थानीय स्तर पर शुभ-लाभ के फेर में राज्य निदेशक के निर्देश को ताख पर रख दिया है.mid-day-meal

कार्रवाई करने की बात तो दूर निर्धारित अवधि बीत जाने के बावजूद अभी भी थाली की खरीदारी चल रही है. विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अभी तक वदपुर, हिसुआ, मेसकौर, नारदीगंज व रजौली प्रखंड में एक भी थाली की खरीदारी नहीं की जा सकी है. जबकि अन्य प्रखंडों में कुल 1 लाख 462 थालियों की खरीदारी कर ली गई है.

सूत्र बताते हैं कि इसमें भी काफी गड़बड़झाला है. सारा खेल शुभ-लाभ के फेर में हो रहा है. कई स्कूलों के प्राचार्यों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि मानक के अनुरुप थाली की खरीदारी नहीं कराई जा रही है. वहीं थालियों की खरीदारी विद्यालय शिक्षा समिति के स्तर से होना था, लेकिन विभाग के अधिकारी अपने स्तर पर कैंप लगाकर थालियों का वितरण करा रहे हैं.

कहते हैं अधिकारी
लगभग सभी प्रखंडों में थाली क्रय का काम पूरा हो गया है. मानक के अनुरुप थाली खरीदे गए हैं. जल्द ही शेष प्रखंडों को थाली उपलब्ध करा दी जाएगी.
मिथिलेश कुमार सिन्हा, एमडीएम प्रभारी, नवादा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*