देेखें तस्वीरें, CM नीतीश कुमार ने समीक्षा यात्रा के दौरान नवादा में पौधों लगाए और डाला पानी

nawada
पौधों मेंपानी डालते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

नवादा(पंकज कुमार सिन्हा): प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विकास कार्यों की समीक्षा यात्रा के दौरान शनिवार को सड़क मार्ग से नवादा होते हुए पौरा पंचायत के मंगुरा ग्राम पहुंचे. मात्र 6 दिनों में गांव में हुए विकास कार्य पर मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के साथ साथ मुखिया को भी धन्यवाद दिया. गलियों की पक्कीकरण को देखककर गदगद हुए मुख्यमंत्री ने बिहार के सभी गांवों को 4 साल के दौरान पक्की करण करने की घोषणा की. पौरा कृषि फार्म के मैदान में बने सभा स्थल से संबोधित करते हुए उन्होंने लोगों से शराब बंदी की तरह 21 जनवरी 2018 को पूरे बिहार में बनने वाले मानव श्रृंखला में बढ़चढ़ कर भाग लेने की अपील की. साथ ही उन्होंने कहा कि गांव या शहर कहीं भी शराब से संबंधित कोई जानकारी मिले तो आपलोग सरकारी बिजली पोल पर लगे नम्बरों पर सूचना जरूर दें. आपके बिना इसे समाप्त नहीं किया जा सकता. मुख्यमंत्री ने कहा कि दो नम्बरी लोग अभी भी अधिकारियों को घुस देकर शराब बेच रहे हैं. जिनके खिलाफ भी अभियान चलाया जाएगा.

 

nawada

जिलाधिकारी कौशल कुमार की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि टोला भी सड़कों से पक्की करण से जुड़ेगी. गांव में बरसात में गली कीचड़ में होती थी. लोगों को परेशानी होती है. मंगुरा कि गलियों में सोलिंग हुई, जो तारीफ के काबिल है. इसके लिए मैं प्रशासन और पंचायत के मुखिया को बधाई देता हूं. सरकार का लक्ष्य है कि हर घर नल का जल के साथ ही लोहिया स्वच्छता के तहत सभी गांवों में शौचालय का निर्माण हो.

 

nawada

उन्होंने कहा कि फ्लोराइड पानी को भी शुद्ध कर वार्ड वार नल का जल उपलब्ध कराया जाना है. जिसमे तेज़ी से काम हो रहा है. पहले जलमीनार से पानी जाता था. अब 5 हज़ार और 10 हज़ार लीटर के टैंक से पानीकी आपूर्ति हो रही है. ग्राम पंचायत में काम पूरा होगा तो मुखिया जी को लोग वर्षों याद रखेंगे. वार्ड के सदस्य भी निर्वाचित प्रतिनिधि हैं, उनके द्वारा भी काम जा रहा है.

nawada

उन्होंने कहा कि लक्ष्य है कि 4 साल के अंदर हर घर नल, पक्की गली, बिजली का कनेक्शन उपलब्ध हो जाये. शौचालय बनने के कारण आज हर घर के लोग खुशहाल है. बिजली के मामले में लोगों को दिक्कत नहीं होने दे रहै हैं. बिजली की आपूर्ति निर्वाध गति से मिलता रहे यही संकल्प है. पंचायतों में महिलाओं को आरक्षण, शिक्षक नियोजन में आरक्षण दिया गया है.

nawada

सरकार नारी शसक्तीकरण के लिए भी काम कर रही है. महिलाओं को पुलिस बहाली में भी 35 प्रतिशत आरक्षण दिया गया. सात निश्चय योजना के तहत युवाओं के लिए 4 लाख का क्रेडिट कार्य और  कम्प्यूटर की जानकारी दी जा रही है. कौशल युवा कार्यक्रम को बढ़ावा दिया जा रहा है. उद्धमि प्रवृति के लोगों को सरकार मदद करेगी. हर ज़िले में पॉलिटेक्निक, एएनएम स्कूल, आईटीआई, कॉलेज खोला जा रहा है.

nawada

गांव में रहने वाले लोगों को मौलिक सुविधा मिले यह जरूरी है. शराब बंदी लागू होने के बाद परिवार में शांति का माहौल कायम हुआ है. परिवार के लोग  बेहतर भरण पोषण, खाना पर ध्यान दे रहे हैं. शराब बंद होने से अब शादी में डांस बंद हो गया. मुख्यमंत्री ने महिलाओं से कहा कि आप लोग  भी सभी को समझाइए. दारू मत पीओ. मर भी सकते हो. सरकारी तंत्र वाले को घुस देकर दो नम्बर काम करते हैं.

nawada

गांव में बिजली के खम्भे पर बोर्ड लगेगा, जिस पर नम्बर होगा, आप शराब की सूचना दें. नाम गुप्त रहेगा. बताइएगा तो धंधे वाज़ पकड़े जाएंगे. जनचेतना जरूरी है. दहेजमुक्त के लिए भी अभियान चलाया जा रहा है. शराब बंदी के साथ साथ बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ अभियान चलाने का निर्णय लिया. सामाजिक कुरीति को भी दूर करना है.

 

nawada

21 जनवरी 2018 को मानव श्रृंखला बनेगी बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ. आप लोग जरूर सहयोग करें. दहेज प्रथा के खिलाफ मन बनाइये तो दहेज प्रथा जल्द समाप्त हो जाएगा. वैसे घर मे नहीं जाइये. कुछ लोग दहेज ले लिए थे वे लौटा दिए.

 

nawada

इससे पूर्व कार्यक्रम को केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, पूर्व विधायक कौशल यादव, मुख्य सचिव अंजनी कुमार और पुलिस महानिदेशक पी के ठाकुर ने भी संबोधित किया. मंच पर विधायक पूर्णिमा यादव, अनिल सिंह, अरुणा देवी, विधान पार्षद सलमान रागिब, ज़िला परिषद अध्यक्ष पुष्पा देवी,  पूर्व विधायक प्रदीप कुमार, मसीउद्दीन, मुकेश विद्यार्थी सहित अनेक लोग मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*