नवादा: चुनौती नहीं हो तो जीवन नीरस होता है : डीएम

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा): राष्ट्रीय प्रेस दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी कौशल कुमार ने बताया कि चुनौतियां सब के सामने होती है, चुनौती ना हो तो जीवन नीरस होता है. उन्होंने कहा कि आपसबों से मिल फीडबैक के आधार पर ही कई कार्रवाई कर रहा हूं.

शिक्षक नियोजन में गड़बड़ी हो या अन्य कोई कार्रवाई, सब मे आपसबों का सहयोग जरूरी है. संवादहीनता नहीं होना चाहिए. उन्होंने स्वीकार किया कि कुछ अधिकारियों से संवादहीनता के कारण परेशानी होती है.

ईमानदारी से सब काम करें तो सम्मान सभी को मिल सकता है. उन्होंने पत्रकार बीमा योजना का लाभ लेने की अपील सभी पत्रकारों से की. उन्होंने पत्रकारों से संगठन बनाकर एकजुट होने की अपील पत्रकारों से की. संगठन के साथ एक दूसरे का सहयोग करें तभी अच्छा होगा. उन्होंने मासिक पत्रकार सम्मेलन शुरू करने तथा कमेटी में सदस्य बनाने के लिए सहयोग की घोषणा की. शांति समिति की बैठक में सदस्य बनने की अपील की.

मुख्यमंत्री के 7 निश्चय की सफलता में पत्रकारों के सहयोग करने की अपील की है. दुर्गापूजा और मोहर्रम में सहयोग देने के लिए भी आभार जताया. योजनाओं के संबंध में सूचना देने की अपील पत्रकारों से की. नीचे के भृष्टाचारी का खुलासा करने की अपील भी की. अपने दायित्व का निर्वहन ईमानदारी पूर्वक करने की बात कही. कार्यक्रम का आयोजन सूचना जनसंपर्क विभाग के सभागर में किया गया था.

कार्यक्रम से पूर्व वरीय पत्रकार रामजी प्रसाद, राम रत्न सिंह रत्नाकर, शशि भूषण सिन्हा को शाल भेंटकर सम्मानित किया गया. डीपीआरओ परिमल कुमार ने लोगों का स्वागत किया. मंच संचालन सृजन के विजय शंकर पाठक ने किया. कार्यक्रम में साकेत बिहारी, विजय भान सिंह, अजय कुमार, विशाल कुमार, राजेश मंझवेकर, अरविंद कुमार रवि, डॉ पंकज कुमार सिन्हा, कुमार गोपी किशन, अनिल विशाल, विनय कुमार पांडेय, मनमोहन कृष्ण सहित अनेक पत्रकारों ने संबोधित किया.

मौके पर वीरेंद्र वर्मा, सूरज कुमार, राकेश कुमार चुन्नू, अमन सिन्हा, संदीप कुमार, शशि कुमार, सुमित भगत, अनिल शर्मा, संजय मिश्रा, बबलू कुमार, अमित कुमार आदि मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*