विश्व दिव्यांगता दिवस: सांस्कृतिक कार्यक्रम में दिव्यांग बच्चों ने खूब धमाल मचाया

nawada
दिव्यांगता अभिशाप नहीं

नवादा(पंकज कुमार सिन्हा): दिव्यांगता अभिशाप नहीं है. दिव्यांग बच्चे भी हौसला व विश्वास के बल पर अपने मुकाम को हासिल कर सकते हैं. जरूरत इस बात की है कि दिव्यांग बच्चों में मुकाम पाने के लिए हौसला ऊंचा रखा जाए. उनमें हीन भावना पनपने नहीं पाए इसका खास ख्याल रखना होगी. ये बातें बिहार शिक्षा परियोजना नवादा की ओर से विश्व दिव्यांगता दिवस पर शहर के प्रोजेक्ट कन्या इंटर स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में डीईओ सुरेश चौधरी ने कही. उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि दिव्यांग बच्चों के शैक्षणिक विकास के लिए वे हर संभव प्रयास करेंगे. रेडक्रॉस सोसाइटी के आरपी साहू ने कहा कि दिव्यांग बच्चों को हर संभव सहायता पहुंचाने की जरूरत है. ताकि वे मुख्यधारा में जुड़कर सामान्य बच्चों जैसी उन्नति कर सकें.

nawada

नवादा जुमेनाइल बोर्ड के चेयरमैन राजीव नयन ने कहा कि निर्भया बीमा योजना का लाभ दिव्यांग बच्चों को भी दिलाने के लिए प्रयास किया जाएगा. डीपीओ सर्व शिक्षा अभियान चिन्ता कुमारी ने कहा कि बिहार शिक्षा परियोजना की ओर से दिव्यांग बच्चों के लिए कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं. संभाग प्रभारी अरुण कुमार वर्मा ने कहा कि दिव्यांग बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए कई प्रयास किए गए है.

nawada

दिव्यांग बच्चों ने प्रस्तुति से दर्शकों को झूमाया

जिलेभर के प्रखंडों से आए दिव्यांग बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी. बच्चों की शानदार प्रस्तुति देखकर दर्शक वाह-वाह कह उठे. अमन कुमार, कोमल कुमार, प्रियंका कुमारी, रोशनी कुमारी, गौतम कुमार आदि ने भक्ति व फिल्मों की धुन पर आधारित गाने गाए. शिवानी कुमारी, कोमल कुमारी, लव कुमार, सरिता कुमारी आदि ने भी अपने संगीत से लोगों को भावविभोर कर दिया. इसके अलावा दिव्यांग बच्चे खेलकूद, चित्राकन, जलेबी दौड़ आदि प्रतियोगिताओं में भाग लिया. इसमें सफल आने वाले 18 प्रतिभागियों को दीवार घड़ी देकर सम्मानित किया गया. इससे पहले दिव्यांग बच्चों ने शहर में प्रभातफेरी निकाली.

सहाय्य उपकरण भी बांटे गए

दिव्यांग बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए 170 बच्चों को स्कूल बैग,कलम व कॉपी देकर सम्मानित किया गया. 20 बच्चों को ट्राइसाकिल, ह्वील चेयर, श्रवण यंत्र व वैशाखी दिए गए. सहाय्य उपकरण पाकर दिव्यांग बच्चे काफी खुश नजर आ रहे थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*