नवादा में शराबियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस कर रही है जांच

नवादा (पंकज कुमार सिन्हा): बिहार में शराब पर लगे प्रतिबंध का 2 साल होने के बाद भी शराब और शराबियों के बिहार में प्रवेश करने का सिलसिला लगातार जारी है. शराबियों को पकड़ने को लेकर उत्पाद विभाग की टीम के द्वारा आए दिन जगह-जगह छापेमारी और वाहनों की जांच की जा रही है. शुक्रवार को भी उत्पाद विभाग के सब इंस्पेक्टर रूबी कुमारी के नेतृत्व में उत्पाद विभाग के सिपाही और सैफ बल के जवानों ने रजौली की ओर से आ रहे चार पहिया और दो पहिया वाहनों की तलाशी ली.

पुलिस ने बरेव के समीप चेक पॉइंट बनाकर उत्पाद विभाग द्वारा यात्रियों को ब्रेथ एनालाइजर लगा कर भी जांच की जा रही है. गौरतलब है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा एक अप्रैल 2016 से बिहार में शराब बिक्री उत्पादन और पीने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाया गया है. इसके बाद भी बिहार में झारखंड से सटे नवादा जिले में शराब की आवक काफी बड़े पैमाने पर हो रही है. नवादा के रास्ते ही शराब की खेप पटना और समस्तीपुर तक पहुंच रही है.

उत्पाद विभाग द्वारा चलाए जा रहे अभियान से कभी-कभी शराब और शराबी पकड़े जा रहे हैं. परंतु हकीकत यह है कि अच्छी तरह से तलाशी नहीं होने के कारण नवादा में शराब बेचने वालों की पौ-बारह है. लोगों का आरोप है कि शराब की बिक्री होने में पुलिस और उत्पाद विभाग की भी अहम भूमिका है. ऐसे लोगों से उत्पाद विभाग का पूरी तरह सांठगांठ है. जिसके कारण शराब की धड़ल्ले से बिक्री हो रही है.

नवादा : ससुराल आए युवक की जहर देकर हत्या, ससुराल वाले हुए फरार

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*