प्रभारी सचिव ने सदर अस्पताल में अधिकारियों को गन्दगी देखकर लगायी फटकार, पकड़ा गया दलाल

dm

नवादा (रवीन्द्र नाथ भैया): अस्पतालों में सफाई सर्वोच्च प्राथमिकता में होनी चाहिए, उक्त बाते जिले के प्रभारी सचिव एचआर श्रीनिवासन ने सदर अस्पताल नवादा के निरीक्षण के दौरान उपस्थित सिविल सर्जन से कही. निरीक्षण के क्रम में सदर अस्पताल के इमर्जेन्सी वार्ड के शौचालय सहित अन्य कई स्थानों पर गन्दगी देखकर प्रभारी सचिव ने अस्पताल के अधिकारियों को काफी फटकार भी लगायी. उन्होंने रोगियों के खाना बनाने वाले स्थान की गन्दगी देखकर गहरा असंतोष व्यक्त करते हुए शख्त निर्देश दिया कि संबंधित एन0जी0ओ0 पर कड़ी कार्रवाई करें तथा आवश्यकता होने पर उसे कार्यमुक्त करें.

 

 

 
पकड़ा गया दलालः-

निरीक्षण के क्रम में शिकायत कर्ता विकास कुमार चौधरी ने आरोप लगाया कि बिट्टु कुमार जो काशीचक का रहने वाला है, वह ड्रेसिंग के लिए मुझसे 150 रूपये मांगता है. निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी मनोज कुमार के निर्देश के आलोक में दलाल बिट्टू कुमार को गिरफ्तार कर थाना भेज दिया गया. प्रभारी सचिव द्वारा दवाओं के स्टाॅक जांच का भी निर्देश दिया गया. उन्होंने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि हर हाल में मीनू के अनुसार मरीजों को भोजन मिले, यह सुनिश्चित करे.

 

 

dm
विद्यालय व आंगनबाड़ी केन्द्रों का किया निरीक्षणः-

निरीक्षण के क्रम में प्रभारी सचिव जिला पदाधिकारी मनोज कुमार के साथ हिसुआ प्रखंड बुनियादी राजकीय विद्यालय बगोदर पहुंचकर आठवीं क्लास के बच्चों के साथ बैठकर छात्रवृति, पोशाक राशि आदि का फिडबैक भी लिया. उन्होंने बच्चों के आधार पंजीकरण के बारे में भी जानकारी प्राप्त किया. स्कूल में ही स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण किया तो जूठे बरतन बेतरीव ढ़ंग से रखा हुआ देखकर उपस्थित सेविका को काफी फटकार लगायी तथा पूरी सफाई रखने का निर्देश दिया. उन्होंने टीकाकरण एवं टी0एच0आर0 के संबंध में भी जानकारी प्राप्त किया. बगोदर पंचायत के लक्ष्मीपुर गांव पहुंचकर प्रभारी सचिव ने ग्रामीणों से मिलकर विभिन्न पेंशन योजनाओं के बारे में भी फिडबैक लिया.

 

 

 

पशु चिकित्सालय हिसुआ के निरीक्षण के क्रम में जिला पशुपालन पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी हिसुआ को निर्देश दिया कि दवाओं के स्टाॅक का भेरीफिकेसन कर प्रतिविदित करें. उन्होंने हिसुआ पीएचसी का भी निरीक्षण किया तथा यह पाया कि कई कर्मी मुख्यालय में नहीं रहकर जहानाबाद एवं अन्य जगहों से प्रतिदिन आते-जाते हैं. उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए सिविल सर्जन श्रीनाथ को निर्देश दिया कि कर्मी और डाॅक्टर मुख्यालय में ही रहें, इसे हर हाल में सुनिश्चित करें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*