गंगटा में शुरू हुआ 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन, लोगों को मिलेगा गर्मी से राहत

nawada-bijli-plant

अकबरपुर/नवादा (राकेश कुमार) : जिले के अकबरपुर प्रखंड के गंगटा गांव में स्थापित सोलर पावर प्लांट से बिजली का उत्पादन शुरू कर दिया गया है. गंगटा में शुरू हुआ पवार प्लांट से 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है. जिससे अब जिले को 13.3 मेगावाट बिजली मिलनी शुरू हो गयी है. जिससे गर्मी के पूर्व जिलेवसियों को कुछ राहत मिलनी की उम्मीद है. इसके पूर्व दरियापुर गांव में लगाये गये सोलर पावर प्लांट में बिजली का उत्पादन शुरू किया गया था. जिसके बाद युद्वस्तर पर कार्य कर अप्रैल आने के पूर्व गंगटा में भी लगाये गये सोलर पवार प्लांट से 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन शुरू कर दिया गया.


किसने लगाया है पवार प्लांट
कोलकता की रिलांयस रिन्युयल इंजी प्राईवेट लिमिटेड ने गंगटा गांव में 60 एकड़ भूमि को किसानों से लीज पर लिया है. जिसमें 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन कंपनी के द्वारा शुरू किया गया है. इस कंपनी से संबद्व ग्लाट सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा पूर्व में दरियापुर गांव में 25 एकड़ भूमि पर 3.3 मेगावाट बिजली का उत्पादन एक माह पूर्व शुरू किया गया था. अर्थात 85 एकड़ भूमि पर कुल 13.3 मेगावाट बिजली का उतपादन कंपनी के द्वारा किया जा रहा है.

solar plant
जर्मन टेक्नालांजी से शुरू हुआ उत्पादन
गंगटा प्लांट से 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन शुरू हुआ है. जिसकी आपूर्ति नवादा ग्रिड को की जा रही है. सोजर पावर प्लांट पूर्णत जर्मन टेक्नालाजी पर आधरित है. उत्पादित बिजली नवादा पावर ग्रिड को आपूर्ति की जा रही है. इसके उत्पादन व आपूर्ति से बिजली की कर्मी जिले में कुछ हद तक दूर हो सकेगी तो गर्मी में लोगों को राहत पहुंचाने वाली साबित होगी.

nawada bijli
परमाणु व पनबिजली घर का सपना अधूरा
नवादा जिले में बिजली उत्पादन को लिए फुलवारिया में परमाणु बिजली घर का प्रस्ताव पिछले एक दशक से प्रस्तावित है. कई बार पदाधिकारियों द्वारा स्थल निरीक्षण भी किया जा चुका है. लेकिन अब तक इसे चालू करने के लिए स्वीकृति नही मिल पायी है. इसी प्रकार ककोलत में भी पनबिजली के संचिका भेजी गयी लेकिन इस पर किसी प्रकार का कार्य नही प्रारंभ हो पाया है.


क्या कहते है कंपनी के अधिकारी
जिले में यह दूसरा सोलर पवार प्लांट है. पूर्व में दरियापुर में लगाये गये प्लांट से 3.3 मेगावाट का उत्पादन कर पवार ग्रिड को दिया जा रहा है. अब गंगटा में कंपनी द्वारा 10 मेगावाट बिजली का उत्पादन कर पवारग्रिड को दिया जा रहा है. आपूर्ति आरंभ करने में जर्मनके अभियंताओं की प्रमुख भूमिका है.
संत प्रसाद, मुख्य प्रबंधक, सोलर बिजली पावर प्लांट, अकबरपुर,नवादा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*