नए साल में बिहार की कई यूनिवर्सिटीज को मिलेगा अपना भवन

पटना : बिहार के लिए नया साल हायर एजुकेशन के लिहाज से बेहतर होगा. इस वर्ष विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में शिक्षकों की भारी कमी दूर हो जाएगी. साथ ही कई नयी यूनिवर्सिटी भी आकार लेने वाली है. कुछ यूनिवर्सिटी जो अब तक किराये के बिल्डिंग में चल रही थी वो नए साल अपने कैंपस में जा सकती है.

नए साल में आर्यभट्ट ज्ञान विवि मीठापुर और सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ बिहार प्रमुख हैंमगध विवि को विभाजित कर बनाया जानेवाला नया पाटलिपुत्रा विवि अस्तित्व में आ जाएगा. विवि और विभागीय सूत्रों के अनुसार इस पर तेजी से काम चल रहा है. यह पटना में स्थापित होनेवाला पांचवां विवि होगा.

इसके अलावा एनओयू का मुख्यालय नई जगह शिफ्ट हो सकता है. संभवत: यह राजगीर में आर्मी के खाली पड़े स्कूल में शिफ्ट हो. राज्य सरकार ने  इस विवि  लिए 10 एकड़ जमीन नालंदा में आवंटित की  है. कुल मिलाकर लगभग 3300 से ज्यादा सहायक प्राध्यापकों की नियुक्ति प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है. हाईकोर्ट के आदेश के बाद बीपीएससी में पुन: असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए साक्षात्कार शुरू हो गया है. मैथिली के शिक्षक तो पहले ही ज्वाइन कर चुके हैं. अंग्रेजी और दर्शनशास्त्र के शिक्षकों के लिए विवि को निर्देश दिया चुका का है. वहीं पांच अन्य विषयों के साक्षात्कार हो चुके हैं.

 

About Abhishek Anand 140 Articles
Abhishek Anand

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*