एम्स नर्सिंग बीएससी ऑनर्स की परीक्षा का केंद्र बदला, परीक्षार्थी हुए परेशान

फुलवारी शरीफ : पटना एम्स नर्सिंग एंट्रेंस एग्जाम बीएससी ऑनर्स के सैंकड़ो स्टूडेंट्स उस समय परेशान हो गये जब फुलवारी शरीफ रेलवे स्टेशन के नजदीक टहल टोला में सेंटर पर पहुंचने पर पता चला की यहां का सेंटर बदल गया है और आज ही एग्जाम दूसरे सेंटर अनीसाबाद के बाल्मी चक में लिया जाएगा. इस जानकारी के बाद फुलवारी शरीफ के टहल टोला में काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल रहा. अविभावकों के साथ परीक्षा देने आये परीक्षार्थियों को सेंटर ऑनर और मकान मालिक के विवाद का खामियाजा उठाना पड़ा. मीडिया के पहुंचने पर जिस सेंटर पर एग्जाम होना था. उसका मकान मालिक ताला बंद कर फरार हो गया.

फुलवारी शरीफ थानेदार को मामले की जानकारी दी

इस सेंटर पर अपना दावा करने वाले अब पुलिस में शिकायत करने की तैयारी में लगे थे. वहीं सेंटर पर पहुंचे पटना एम्स के एस एन पांडेय ने फुलवारी शरीफ थानेदार को मामले की जानकारी दी. एसएन पांडेय का कहना था कि फुलवारी शरीफ रेलवे स्टेशन के नजदीक टहल टोला के सेंटर को पहले ही स्थगित कर दिया गया था और रविवार को परीक्षा बाल्मी चक के सेंटर पर लिया जा रहा है. उन्हें जब पता चला कि काफी स्टूडेंट्स टहल टोला के सेंटर पर पहुंचे हुए हैं तब वे सही सेंटर पर परीक्षार्थियों को पहुंचाने के लिए पहुंचे थे.

छात्राओं को जानकारी नहीं

उन्होंने बताया कि ऑनलाइन एग्जाम देने पहुंची जिन छात्राओं को जानकारी नहीं हो पाई थी कि सेन्टर बदला गया है उसी से परेशानी हुई है. गौर करने वाली बात है कि अगर परीक्षा का सेंटर बदला गया था तब परीक्षार्थियों के एडमिट कार्ड पर रूपेन इम्पेक्स प्राइवेट लिमिटेड टहल टोला के सेंटर का ही पता अंकित कैसे रह गया. बहरहाल जिन परीक्षार्थियों को नए परीक्षा केंद्र की जानकारी नही थी, उनमें उहापोह की स्थिति बनी हुई थी. अगर उनकी आज की परीक्षा छूट गयी तब आगे कब परीक्षा लिया जाएगा.

वहीं टहल टोला के सेंटर पर मौजूद इंफीनाइट ऑनलाइन एग्जाम सॉल्युएशन के एमडी हरेंद्र यादव ने बताया कि अरुण कुमार के मकान में एक साल से वे सेंटर चला रहे थे. मई 2017 से ही अरुण कुमार से एग्रीमेंट है 20 सालों के लिए. मकान मालिक अरुण कुमार ने सितम्बर 2017 से इस सेंटर को हड़प कर दूसरा नाम से इसी मकान में अपना सेंटर चलाने लगे. जबकि वे लोग इस सेंटर का 83 हजार हर माह किराया देते.

रविवार को एम्स नर्सिंग का ऑन लाइन 990 स्टूडेंट्स का एग्जाम था. 10 बजे से परीक्षा थी लेकिन सेंटर पर पहुंचे स्टूडेंट्स को अचानक सेंटर कैंसिल होने से परेशानी हो गयी. परीक्षा नहीं दे पाने से निराश स्टूडेंट्स को लौटना पड़ा. बता दें कि मकान मालिक से हरेंद्र यादव का विवाद पहले ही दानापुर एसडीओ के पास चल रहा है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*