जानकारी : कल पटना एम्स का ओपीडी रहेगा बंद, छठ पर्व को देखते हुए दिए गये आदेश

फुलवारीशरीफ (अजित कुमार) : लोकअस्था का महापर्व छठ केअवसर पर पटना एम्स का ओपीडी  27 अक्तूबर यानी शुक्रवार को बंद रहेगा. इसकी जानकारी देते हुये एम्स के पीआर ओ शालजा तिवारी ने बताया कि 28 अक्तूबर यानी शनिवार को ओपीडी खुल जायेगा. बता दें कि छठ पर्व को देखते हुए ओपीडी को बंद किया गया है.

डीआरएम ने किया मंडल अस्पताल का औचक निरीक्षण

खगौल/फुलवारी शरीफ : दानापुर के नए डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर इस मंडल में योगदान करने के साथ अपने कर्मचारियों से लेकर अधिकारियों एक ही नसीहत देते आ रहे हैं कि हरेक व्यक्ति को व्यवहार कुशल होना चाहिए. इस से चाहे घर हो या संस्थान आपसी प्रेम-भाव से ही विकास का मार्ग प्रशस्त्र होता है. उहोंने ने कहा कि डाक्टरों को भी खासकर रोगियों और कर्मचारियों के साथ व्यवहार कुशल होना सबसे जरुरी है. डीआरएम ने यह बातें बुधवार को मंडल मुख्यालय स्थित मंडल रेल अस्पताल के औचक निरीक्षण के बाद पूछे गए एक सवाल के जवाब में दिया है.

मालूम हो कि दानापुर मंडल अस्पताल के ही कर्मचारी भगवान पासवान, जब एक डाक्टर को उसके केबिन में जा कर रोगी को देखने के लिए बुलाने गया तो उसे मिली डांट-फटकार के बाद उसका उसी समय ब्रेनहेमरेज हो गया था. जिसे आनन-फानन में पटना स्थित सेन्ट्रल रेल अस्पताल में भर्ती कराया गया. जिसकी मौत इलाज के दौरान हो गई. अब यह एक संयोग है या क्या यह तो अगर जांच हो तभी पता चल सकता है.

 डीआरएम ने अस्पताल निरीक्षण के बाद कहा कि यहाँ रोगियों को समुचित इलाज के लिए जांच के उपरांत दवा मिले यह प्राथमिकता है. अस्पताल के डाक्टरों के साथ बैठक कर जो भी कमियां होगी दूर किया जाएगा. इस दौरान मंडल अस्पताल के मुख्यचिकित्सा अधीक्षक आरएन रॉय, डॉ.आरके वर्मा आदि मौजूद थे.

रेल अस्पातल में होमियोपैथ यूनिट को 8 घंटा करने का प्रस्ताव

खगौल : दानापुर के डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर ने कहा कि कर्मचारियों और रेलवे संगठनों की मांगों को ध्यान में रख रेल मंडल मुख्यालय स्थित मंडल अस्पताल में चल रहे होमियोपैथ यूनिट को 4 घंटा से बढ़ा कर 8 घंटा करने का प्रस्ताव भेजा जायेगा. यहाँ के कर्मचारियों के साथ-साथ रेलवे संगठन के नेताओं ने भी प्रशासन से इस यूनिट को 4 घंटा से बढ़ा कर 8 घंटा करने की मांग किया है.

इसके लिए डीआरएम श्री ठाकुर ने होमियोपैथ यूनिट निरीक्षण के बाद इस सम्बन्ध में अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.आरएन रॉय, डॉ. आरके वर्मा और होमियोपैथ डॉ. नन्दलाल शर्मा से विस्तृत जानकारी लिए. सीएमएस श्री रॉय ने भी डीआरएम को बताया कि इस यूनिट को 8 घंटा किया जाना जरुरी है, क्योंकि यहाँ अधिक रोगी आते हैं.

मालूम हो कि इस होमियोपैथ यूनिट में फिलहाल डॉ.शर्मा को सिर्फ 4 घंटा के लिए नियुक्त किया गया है. सहायक के रूप में संजीव कुमार कार्यरत हैं. डॉ.शार्मा एक व्यवहार कुशल होने के साथ-साथ होमियोपैथ के एक अच्छा डाक्टर भी है. इसके कारण भी यहां प्रतिदिन करीब 50-60 से भी अधिक रोगियों का तांता यहां लगा रहता है.

इसमें खासकर ज्वांट पेन, स्कीन, शुगर आदि सहित ख़ास कर ऐसे रोगियों की संख्या अधिक होती है, जिसे बताया जाता है कि अब इस दुनियां में उसके रोगों का कोई इलाज नहीं है. ऐसे जीवन से निराश रोगियों की भीड़ यहां काफी लगी रहती है. डॉ. शर्मा भी मानवता के आधार पर उनका प्रयास रहता है कि अपने यूनिट में आये रोगियों को देख जरुर लें.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*