बेऊर थाना प्रभारी पर दुर्व्यवहार का आरोप, कोर्ट में मामला दर्ज

फुलवारी शरीफ : बेऊर थाना के कुशवाहा चौक निकट न्यू कृष्णा विहार कॉलोनी के निवासी अधिवक्ता पुरूषोतम कुमार ने बेऊर थानाध्यक्ष आलोक कुमार के खिलाफ दुर्व्यवहार करने और FIR नहीं करने पर कोर्ट में मामला दर्ज कराया है. अधिवक्ता ने आरोप लगाया है कि बेऊर थानाध्यक्ष ने एफआईआर नहीं लिया और आरोपियों से मिलकर झूठे केस में फंसाने की धमकी दिया है. साथ ही दुर्व्यवहार किया है. पीड़ित अधिवक्ता ने इस संबध में पुलिसधिकारियों को कार्रवाई के लिए आवेदन दिया है.

इस संबध में थानेदार अलोक कुमार ने बताया कि अधिवक्ता पुरूषोतम कुमार के द्वारा लगाये गये सारे आरोप निराधार हैं. मामला असल यह है कि अधिवक्ता कुछ दिन पहले थाने पर आये थे और एक आवेदन दिया कि देवेन्द्र प्रसाद को पांच लाख रूपये एक जमीन के लिए बियाना दिया हूं. आवेदन की जांच के लिए एएसआई अवधेश कुमार सिहं ने दी. जांच करने गये अवधेश कुमार सिहं ने जब देवेन्द्र प्रसाद से इस बाबत बात की तो पता चला कि अधिवक्ता ने पांच लाख रूपये बतौर सूद पर दिये हैं.

राम कृष्णानगर में रिटायर शिक्षक के घर डकैती, पूरे परिवार को बना लिया था बंधक

देवेन्द्र प्रसाद ने अनुसंधान कर्ता को बताया कि पांच लाख रूपये से अधिक रूपये दे दिया हूं. तब भी बराबर रूपये की मांग करता हूं. इसी बीच देवेन्द्र प्रसाद ने फिर दो लाख रूपये अधिवक्ता को दिया. अधिवक्ता ने प्राप्ती रशीद भी दी है. थानेदार ने यह भी कहा कि सूद पर पैसा देना गैर कानूनी है. क्या आप के पास सूद पर रुपये चलाने का लाइसेंस है. लाइसेंस नहीं है तो यह काम गैर कानूनी है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*