उपमुख्यमंत्री के आश्वासन के एक सप्ताह बाद बिहटा बाजार में लौटी रौनक

बिहटा (मृत्युंजय कुमार) : बुधवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी से मिले आश्वासन के बाद बिहटा की तमाम दुकाने खुली. एक सप्ताह के बाद बिहटा में व्यवसाय शुरू होने के बाद एक बार फिर से रौनक दिखने लगी. पूर्वती की तरह सभी व्यवसायी अपने काम में लगे नजर आए. लेकिन सभी व्यवसायियों में दहशत वयाप्त था. बताते चले कि मंगलवार को बिहटा के दस व्यवसायियों का एक शिष्टमंडल सूबे के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी से मिलकर अपनी मांगो संबंधी एक ज्ञापन सौंपा था.

प्रमुख मांगो में बिहटा बाजार में सीआरपीएफ के जवानो से सघन पुलिस पेट्रोलिंग, बिहटा बाजार में स्थाई पुलिस पिकेट की व्यवस्था, व्यवसायियों को सुरक्षा गार्ड और शस्त्र का लाइसेंस उपलब्ध कराना, बिहटा बाजार में घटित घटनाओं की स्पीडी ट्रायल कर दोषियों को जल्द सजा दिलाना, क्षेत्र के 20 से 25 किलो मीटर के अपराधियों को चिन्हित कर नजरबंद कराना, उन पर सीसीए लगाना, अनधिकृत टेम्पो और बस स्टैंड को हटाना, रेल ओवर ब्रिज पर रात्रि के समय प्रकाश की व्यवस्था आदि था.

बिहटा पेट्रोल पंप पर सिक्का नहीं लेने पर मारपीट-तोड़फोड़

सभी मांगो को देखने के पश्चात उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने पुलिस के उच्चाधिकारियों से बातचीत कर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था करने का निर्देश दिया. साथ ही उनकी मांगो को देर शाम होने वाली बैठक में मुख्यमंत्री के समक्ष रख कर सभी मांगो को पूरा करने का आश्वासन दिया था. उनके आश्वासन के बाद बिहटा के व्यव्सायी ने बैठक आयोजित कर दुकान खोलने का निर्णय लिया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*