ये है राजधानी पटना का बिहटा स्टेशन रोड, खोल रहा है स्वच्छ भारत अभियान का पोल

बिहटा (मृत्युंजय कुमार) : सरकार जरा इधर भी देखिये, यह है हाइटेक हो रहा राजधानी पटना के बिहटा शहर का स्टेशन रोड. जो खोल रहा है स्वच्छ भारत अभियान और विकास की पोल. जिसके किनारे नाले में वर्ष में 250 दिन बजबजाते रहता है बदबूदार कीचड़ और सड़क पर लगा रहता कीचड़ युक्त पानी. लोगों को आने-जाने में होती है परेशानी. इस मार्ग से प्रखंड सह अंचल कार्यालय, पोस्ट ऑफिस, रेफरल अस्पताल, रेलवे स्टेशन आते-जाते रहते हैं लोग. जिले के आला अधिकारी और जनप्रतिनिधि की भी पड़ती है नज़र. कौन बदलेगा इस मार्ग की तकदीर. सवाल कर रही है जनता.

बता दें कि इस रास्ते रोज स्थानीय प्रखंड विकाश पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी गुजरते है. फिर भी वर्षों से नहीं हो सका है जल निकासी के समस्या का समाधान. बिहटा गांव और पुराना बाजार का इसी नाले से पानी बहता है जबकि यहां देश का सर्वोच्य उच्च शिक्षा संस्थान आईआईटी, नाइलेट, एफडीडीआई, ईएसआईसी, एचपीसीएल, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, हीरो साइकिल, रेमंड्स गवर्मेन्ट, मेडिकल की तैयारी के लिये गोल का कोचिंग एस्टिच्यूट, ड्राइपोर्ट तथा कई अन्य संस्थान हैं.

सिविल उड़ानों के लिये अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के लिये भूमि अधिग्रहण का कार्य समाप्ति पर है. दो निजी इंजीनियरिंग कॉलेज पहले से है. एक निजी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल प्रकियाधीन है. एएनएम, बीएड के कई कालेज, टीएमटी सरिया की कई स्माल कारखाने, प्लाईवुड, वियर फैक्ट्री, अत्याधुनिक कई राइस मिल तथा कई लघु उद्योग स्थापित है. 125 एकड़ से भी अधिक में बनने वाला रेडीमेड गवर्मेंट पार्क प्रस्तावित है. बदलते बिहटा में कई मॉल, ब्रांडेड होटल ,स्कूल आदि भी दस्तक दे चुके है.

बिहटा में साइबर अपराधियों ने फिर उड़ा लिया 80 हजार, किशोरी का बदला एटीएम कार्ड

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*