बिहटा में साइबर अपराधियों ने फिर उड़ा लिया 80 हजार, किशोरी का बदला एटीएम कार्ड

बिहटा (मृत्युंजय कुमार) : एसबीआई के कार्ड से केनरा बैंक के एटीएम से रुपये निकालने आयी बिष्णुपुरा निवासी नवल किशोर सिंह की पुत्री चंचल कुमारी को जालसाजों ने अपना शिकार बनाया. चंचल का कहना है जब पैसा नहीं निकला तो वह परेशान थी. इसी बीच तीन युवक आये और उसे कॉर्ड डालने को बोले. कोड जानकर वे लोग कार्ड बदल लिये और यह कहते चले गये कि इसमें पैसा नहीं है. दूसरे जगह से निकाल लेना. जब वह दूसरे एटीएम में गयी तो कार्ड बदलने की जानकारी हुई. तब तक वे लोग दो बार में 40-40 हजार खाते से उड़ा लिये.

वह बैंक में जाकर अपने दादा ईश्वर दयाल सिंह के खाते को फ्रिज करा दी है. थानाध्यक्ष राघव दयाल का कहना है कि अपराधी की खोज की जा रही है. गत शनिवार को झोलाकटवा ने भीड़ -भाड़ वाले बाजार में उसी गांव के सैप एक जवान शंकर सिंह का बैग काटकर 1 लाख 50 हजार तथा एक रेलकर्मी का 10 हजार उड़ा उड़ा लिया था. उसके एक दिन पूर्व शुक्रवार को साइबर ठगों ने विक्रम प्रखंड की एक शिक्षिका रेणु पाल का एटीएम हैंग कर स्टेट बैंक के उनके खाता से निकाल लिया था 40 हजार रुपये.

ब्लेड मरवा गिरोह ने बिहटा में सैफ जवान और रेलवे कर्मचारी को बनाया निशाना

इसी तरह यहां साइबर अपराधियों ने कभी एटीएम कार्ड बदलकर तो कभी कोड जान, कभी बैंक या सरकार का अधिकारी बन दो दर्जन से अधिक के खाते से लाखों रुपये उड़ा चुके है. मौर्या मोटर का एजेंट बनकर राघोपुर के ट्रक मालिक से करीब चार लाख रुपये अकेले में ले जाकर छीना जा चुका है.

कभी झपटमरवा बाइकर्स गैंग, तो कभी महाकाल बाइकर्स गैंग द्वारा तरह -तरह के आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया जाता रहा है. बैंकों में भी नकली सोना रखकर लाखों रुपये लोन लेने का कई मामला सामने आ चुका है. मुहरमरवा गिरोह भी परदेश से आने -जाने वालों की गाढ़ी कमाई को रुपया पर मुहर मारने के नाम ठग कर लूटते रहा है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*