बेउर जेल में बिहटा के महादलित कैदी की मौत, शराब पीने के मामले में था बंद

बिहटा, मृत्युंजय कुमार : थाना क्षेत्र के राघोपुर मुसहरी निवासी रामप्रवेश मांझी के 25 वर्षीय पुत्र जैकी मांझी की रविवार को पीएमसीएच पटना में इलाज के दौरान मौत हो गई. मौत की सूचना पर मुसहर टोली में कोहराम मच गया. क्योंकि चार दिन पहले बिहटा पुलिस उसको शराब पीने के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. रविवार को जब उसकी मां बेउर जेल में मिलने पहुंची तो उसे पीएमसीएच अस्पताल में दो दिन पहले ही भर्ती कराने की बात कही गई. जब वह अस्पताल गई तो जानकारी मिली कि उसकी मौत हो गई है.

बिहटा मृतक (फाइल फोटो)

हालांकि मौत का कारण पता नहीं चला. इसकी सूचना जैसे ही राघोपुर परिवार के सदस्यों को मिली पूरे टोला में कोहराम मच गया. आनन-फानन में सभी लोग बिहटा थाना पहुंच कर जैकी के बारे में पूछे तो बिहटा पुलिस जेल भेजे जाने की बात कही. जब ये लोग उसकी मौत की बात पुलिस को बताया तो पूछताछ के बाद पुलिस मौत की पुष्टि की. जब उन लोगों ने पुलिस पर मारपीट करने का आरोप लगाया तो सभी को वहां से भगा दिया गया.

पटना : संदिग्ध हालात में फंदे से लटकी मिली पॉलिटेक्निक स्टूडेंट की डेड बॉडी

बिहटा पुलिस ने जैकी को जेल भेजने और उसकी मौत की पुष्टि करते हुए मारपीट के आरोप को बेबुनियाद बताया है. मुसहर टोली के लोगों में है पुलिस के खिलाफ आक्रोश है. राघोपुर मुसहर टोली के मीना देवी और चंदा देवी की माने तो बिहटा पुलिस देर रात उनके घरों में छापेमारी करती है. विरोध करने पर मारपीट करने लगती है. यहां तक की उनके पास का पैसा भी लेकर चली जाती है. इस बात को लेकर उनलोगों में आक्रोश है.

घर के कमाऊ सदस्य की मौत से गर्भवती पत्नी और दो बच्चों का रो रो कर बुरा हाल है. जैकी की मौत से उसकी गर्भवती पत्नी मेनका देवी का रो-रो कर बुरा हाल था. वहीं तीन साल की नंदिनी और दो साल की सलोनी अपनी माँ को रोते देख अपलक उसको निहार रही थी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*