निखिल को अभी राहत नहीं, सुनवाई टली

nikhil-priydarshi

पटना (एहतेशाम अहमद) : बिहार के बहुचर्चित नाबालिग दुष्कर्म कांड से चर्चा में आये आटोमोबाइल व्यवसायी निखिल प्रियदर्शी की मुश्किलें कम होती दिखाई नहीं पड़ रही हैं. जमीन खरीद बिक्री में धोखाधड़ी किये जाने के एक अन्य मामले में पटना हाईकोर्ट के जस्टिस राजीव रंजन प्रसाद की एकलपीठ के समक्ष निखिल प्रियदर्शी की ओर से दायर नियमित जमानत याचिका पर गुरुवार को सुनवाई होनी थी. परंतु मामले में सूचक के अधिवक्ता द्वारा अदालत में सुनवाई के समय उपस्थित नहीं रहने के कारण सुनवाई टल गयी.

गौरतलब है कि यह मामला खगौल में स्थित जमीन की खरीद-बिक्री में धोखाधड़ी से जुड़ा हुआ है. मामले के सूचक सोहेल खान ने पुलिस को दिये गये आवेदन में यह बताया था कि उक्त जमीन हेलियस कार्पोरेशन लिमिटेड की है. जिसकी बिक्री के लिए कंपनी द्वारा उन्हें अधिकृत किया गया था. मामले में सूचक ने बताया की जमीन खरीद बिक्री में इन लोगों द्वारा धोखाधड़ी की गयी है. जमीन की खरीद कंपनी से करने के बाद पैसा नहीं दिया गया और उक्त जमीन को कई लोगों से बेचने के लिए एग्रीमेंट किये जाने की बात सामने आयी.

nikhil-priydarshi

इस मामले में बीते 18 जनवरी को दानापुर थाना कांड संख्या 27/2017 दर्ज कराया गया था. इस मामले में निखिल प्रियदर्शी के अलावा उनके भाई को भी अभियुक्त बनाया गया था. निचली अदालत ने गत 14 जून को ही इनकी नियमित जमानत याचिका पर सुनवाई कर खारिज कर दिया था.

यह भी पढ़ें – यौन शोषण मामले में निखिल प्रियदर्शी को नहीं मिली बेल

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*