UPDATE : डबल मर्डर के जांच में जुटी पुलिस, नौकर, ड्राइवर और कई कर्मी से पूछताछ जारी

manu-maharaj
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क: पटना में वृद्ध दंपति लघु सिंचाई विभाग के रिटायर कमिश्नर हरेंद्र प्रसाद सिंह (90) और उनकी पत्नी सपना दास गुप्ता (70) की पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी. डबल मर्डर की खबर मिलते ही देर रात एसएसपी मनु महाराज के साथ पूरी पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई. एसएसपी ने यह स्पष्ट किया है कि दोनों की हत्या की गई है. इसमें किसी करीबी का हाथ है.

घटना के पीछे संपत्ति विवाद

माना जा रहा है कि घटना के पीछे संपत्ति विवाद है. जानकारी के मुताबिक हरेन्द्र प्रसाद सिंह ने 2 शादियां की थी. पहली बीवी पटना के कंकड़बाग में रहती है. उनसे हरेन्द्र प्रसाद को दो बेटे हैं. दूसरी पत्नी सपना दासगुप्ता से हरेन्द्र प्रसाद को एक बेटा बिजेन्द्र प्रसाद सिंह और एक बेटी है. बिजेन्द्र प्रसाद सिंह दिल्ली के मैक्स अस्पताल में डॉक्टर हैं. वहीं बेटी ऑस्ट्रेलिया में रहती हैं.

हरेन्द्र प्रसाद और उनकी बीवी की देखभाल करने के लिए पिछले 25 साल से चार कर्मचारी घर में रहते थे, जिसमें से एक ड्राईवर, एक केयरटेकर और दो नौकरानियां हैं. पुलिस सूत्रों के मुताबिक पटना में हरेन्द्र प्रसाद की करोड़ों की संपत्ति है. जिस मकान में दंपत्ति रहते थे उसमें उन लोगों ने तकरीबन 55 किरायेदारों को रखा हुआ था. दोनों बुद्धा कॉलोनी के B-6 मकान के प्रथम तल पर रहते थे. दोनों का शव उनके बेडरुम में मिला.

नौकरानी कमरे में गयी तो देखा सन्नाटा पसरा है

वृद्ध दंपती के यहां काम करने वाली नौकरानी गुलशन आरा ने बताया कि दोपहर में मालकिन ने उसे तीज का सामान खरीदने के लिए रुपए दिये थे. सामान लेकर वह शाम में लौटी. नौकरानी की मानें तो रोज की तरह वह रात करीब नौ बजे मालकिन के कमरे में सामान लेकर गई तो वहां सन्नाटा पसरा मिला. आवाज लगाने के बाद भी जब कोई जवाब नहीं आई तो उसने किरायदारों को खबर दी. किरायेदार के साथ जब वह दोबारा कमरे में गई तो वहां वृद्ध दंपती की लाश पड़ी मिली.

पहले पुलिस को दी खबर, फिर अस्पताल ले गए

नौकरानी ने बताया कि किरायेदार ने ही इस घटना की खबर स्थानीय बुद्धा कॉलोनी पुलिस को दी. फिर दंपती को बोरिंग कैनाल रोड स्थित एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया.

नौकर, ड्राइवर और कई कर्मी हिरासत में

पुलिस टीम ने नौकरानी गुलशन आरा, उसके पति और मकान के केयरटेकर शोएब, ड्राइवर बहादुर और दायी गीता देवी को हिरासत में लिया है. सभी से पूछताछ की जा रही है. संदिग्धों का बयान अलग-अलग कमरे में लिया जा रहा है. शोएब और उसकी पत्नी वृद्ध दंपती के साथ 20 वर्षों से रह रहे हैं. सभी कर्मी इसी मकान में रहते हैं.

यह भी पढ़ें – पटना में डबल मर्डर से सनसनी, रिटायर्ड कमिश्नर और उनकी पत्नी की घर में घुसकर हत्या

पटना में युवती ने लगाई गंगा नदी में छलांग, बॉडी को तलाशने में जुटी SDRF की टीम

केयरटेकर ने कहा- साहब और मैडम में हुआ था झगड़ा

केयरटेकर शोएब ने पुलिस के सामने यह बयान दिया कि सुबह के वक्त सोफा बनाने के लिए मिस्त्री आया था. वृद्धा ने अपने पति हरेंद्र प्रसाद सिंह को उस ओर जाने से मना किया था, लेकिन किसी काम से वे उधर गए और उनका पैर कट गया था. काफी खून निकलने लगा. केयरटेकर के बयान के मुताबिक, इसी बात को लेकर दंपती में काफी झगड़ा भी हुआ था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*